पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आक्रोश:महाराजगंज में स्वर्णकार की हत्या पर बाजार बंद, नखास चौक पर सड़क जाम

महाराजगंज5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रंगदारी नहीं देने पर बुधवार की रात गहने बनानेवाले कारीगर और उसके भाई व साले को बदमाशों ने घोंपा था चाकू
  • व्यवसायियों का आरोप -केवल शराब तस्करों के पीछे भाग रही है पुलिस

महाराजगंज में सोने के गहने बनानेवाले कारीगर बिट्टू कुमार सोनी की बुधवार की रात अपराधियों ने चाकू घोंपकर हत्या कर दी। इस घटना से गुस्साए स्वर्ण व्यवसायियों ने गुरुवार को दुकानें बंद रखीं। हंगामे के कारण पुराना बाजार, काजी बाजार, मोहन बाजार, सिंहौता, नया बाजार आदि इलाके में दुकानें बंद रहीं। व्यवसायियों ने उसके शव को नखास चौक पर रखकर गाड़ियों की आवा-जाही रोक दी। लोग डीआईजी मनु महाराज को बुलाने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि पुलिस को व्यवसायियों की सुरक्षा से कोई मतलब नहीं है। दिनभर पुलिस शराब के पीछे भाग रही है। इसके चलते अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। उनका आक्रोश देख शहर में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। दंगारोधी वज्र वाहन की भी व्यवस्था की गयी थी। विधि व्यवस्था को लेकर महाराजगंज, दरौंदा और गोरेयाकोठी पुलिस स्थिति पर नजर रखे हुई थी। सूचना पर पहुंचे बीडीओ नंदकिशोर साह और सीओ रविंद्र राम ने परिजनों को सरकारी मद से तत्काल बीस हजार रुपए सहायता राशि दी। इसके बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ। आभूषण कारीगर का शव गुरुवार की सुबह करीब चार बजे घर पहुंचते ही परिजनों मे कोहराम मच गया। मृतक की माता मुन्नी देवी और पत्नी आरती देवी की हालत खराब हो रही थी। पिता का शव देख पुत्री हर्षिता बार-बार उन्हें उठाने का प्रयास कर रही थी।

दो भाई और साले का चल रहा इलाज
महाराजगंज शहर में अपराधियों द्वारा व्यवसायियों से रंगदारी मांगने का क्रम जारी है। बावजूद पुलिस कार्रवाई नहीं करती है। यही कारण है कि बुधवार की शाम शहर के रेलवे ढाला के समीप संस्कृत विद्यालय परिसर में अपराधियों ने स्वर्ण आभूषण कारीगर को चाकू मारकर मौत के घाट उतार दिया। उसके दो भाई और साले को भी चाकू गोदकर जख्मी कर दिया गया है। उनका इलाज पटना पीएमसीएच में चल रहा है। व्यवसायियों की मानें तो यह हत्या रंगादारी से जुड़ी है।

बिजनेस के सिलसिले में गोपालगंज से महाराजगंज आए थे बिट्टू के पिता
मालूम हो कि गोपालगंज जिले के मीरगंज निवासी जयप्रकाश सोनी 2012 में अपनी पत्नी और तीन पुत्रों बिट्टू कुमार सोनी, यशवंत कुमार, गोलू कुमार के साथ महाराजगंज शहर में सोने के गहने बनाने की कारीगरी करने के लिए आए थे। पुराना बाजार कपड़ाहटी में जमीन खरीदकर अपना मकान भी बनाया है। बुधवार की शाम बिट्‌टू सोनी को किसी ने फोन कर रेलवे ढाला संस्कृत विद्यालय के समीप आने को कहा था। इसपर वह अपने भाई यशवंत कुमार, गोलू कुमार और अपने साले मनीष कुमार के साथ गए थे। इसी दौरान एक अपराधी ने कहा कि रंगदारी के रूप में तुमसे गहने की मांग की गयी थी। लेकिन नहीं दिया। इसके बाद पांच-छह की संख्या में अपराधियों ने सभी पर चाकू से प्रहार कर दिया। इससे सभी जख्मी होकर गिर गये। अगल-बगल के लोगों ने उन्हें महाराजगंज पीएचसी लाया। वहां बिट्‌टू सोनी की मौत हो गयी।
परिजनों से मिले पूर्व विधायक: बिट्टू की हत्या की सूचना मिलने के बाद पूर्व विधायक हेमनारायण शाह उसके घर पहुंच कर मामले की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि अपराधी कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने जिला प्रशासन से अपराधियों को पकड़ने की मांग की।

बिट्टू हत्याकांड में चार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज
महाराजगंज|
बिट्टू हत्याकांड में मृतक के जख्मी छोटे भाई यशवंत कुमार सोनी ने पटना के पीएमसीएच में पुलिस के समक्ष घटना के संबंध में अपना फर्द बयान दर्ज कराया है। उसने चार लोगों को इस हत्याकांड और मारपीट के मामले में आरोपित किया है। इस संबंध में थानाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह ने बताया कि बिट्टू कुमार सोनी हत्याकांड में मृतक के छोटे भाई के फर्द बयान के आधार पर नखास चौक निवासी विनोद मियां के पुत्र साहिल खान, पुराना बाजार निवासी इस्लामिया के पुत्र बबलू मियां तथा अांबेडकर नगर निवासी परशुराम राम के दो पुत्र विकास राम और लल्लूराम को नामजद किया गया है। इन चारों पर थाना कांड संख्या 99/21 के तहत प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है। उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें