पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अंतिम संस्कार:अनुमंडलीय अस्पताल आई प्रसूता रेफर रास्ते में ही जच्चा-बच्चा की गई जान

मोहनिया7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • महिला अपने पीछे एक 5 वर्षीय बेटा व एक 4 साल की बेटी को छोड़ गई

मोहनिया थाना क्षेत्र के शाहबाजपुर गांव निवासी एक महिला की रविवार की देर रात प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गई। घटना से परिजन मर्माहत हैं। महिला अपने पीछे एक 5 वर्षीय बेटा व एक 4 साल की बेटी को छोड़ गई। परिजनों ने महिला के शव का अंतिम संस्कार गांव में ही किया है।

दरअसल शाहबाजपुर गांव निवासी बब्बन सिंह यादव अपनी पत्नी गीता देवी के प्रसव के लिए रविवार की शाम मोहनिया अनुमंडलीय अस्पताल आई थी, जहां उसका इलाज शुरू किया गया। प्रसव के दौरान महिला को बच्चे के जन्म के दौरान आधा शरीर ही बाहर निकल पाया था, मामले की नजाकत को भांप स्वास्थ्य कर्मियों ने पीड़ित महिला को रेफर कर दिया।

रेफर करने के दौरान उसे कोई कागजात नहीं दी गई है

परिजनों का कहना है कि रेफर करने के दौरान उसे कोई कागजात नहीं दी गई है।हालांकि प्रसव पीड़ित मरीज की इट्री रजिस्टर में दर्ज है। इधर, परिजनों ने पीड़ित महिला को लेकर एंबुलेंस से चंदौली के लिए रवाना हुए मगर रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। अस्पताल उपाधीक्षक डॉ ए.के. दास ने बताया कि इस तरह की कोई भी मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। रविवार की रात्रि पहर जो चिकित्सक ड्यूटी पर तैनात थे,उन्होंने मुझे बताया है कि प्रसव के बाद एक बच्चे का वजन कम था, जिसे भभुआ रेफर किया गया था।

खबरें और भी हैं...