नालंदा में 6 सायबर ठग गिरफ्तार:बगीचे में बैठकर कर रहा था ठगी, मास्टरमाइंड की तलाश में जुटी पुलिस

नालंदा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की गिरफ्त में सभी आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस की गिरफ्त में सभी आरोपी।

नालंदा जिले के कतरीसराय थाना पुलिस ने शुक्रवार के दिन गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए 6 साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है। सभी साइबर ठग कतरीसराय थाना क्षेत्र के कतरडीह और कमल बीघा गांव से पकड़े गए। कतरी सराय थाना में प्रेस वार्ता के दौरान राजगीर डीएसपी प्रदीप पाल ने बताया कि साइबर ठग एक ग्रुप बनाकर काम कर रहे थे, जिसकी गुप्त सूचना पुलिस अधीक्षक नालंदा को प्राप्त हुई जिनके निर्देश पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राजगीर के नेतृत्व में टीम बनाई गई।

कतरीसराय पुलिस ने थाना क्षेत्र के कतरडीह एवं कमल बीघा गांव में छापेमारी कर बगीचे और घर से कुल 6 अभियुक्तों की गिरफ्तारी की है। डीएसपी ने बताया कि यह सभी लोग एजेंसी से गाड़ी दिलाने के नाम पर कृषि लोन या अन्य ऑफर दिलाने के प्रलोभन देकर आम नागरिकों से ठगी कर रहे थे इनके पास से एक अटेंडेंस रजिस्टर भी बरामद हुआ है, जिसमें से इन छह के अलावा 30 अन्य लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

कौन कौन हुआ गिरफ्तार
कतरीसराय थाना क्षेत्र के कतरडीह गांव निवासी स्व. रोहन सिंह का पुत्र संजय कुमार सिंह, सुरेंद्र सिंह का पुत्र सुमंत कुमार, उमेश सिंह का पुत्र संजीत कुमार,सीताराम सिंह का पुत्र अंकू कुमार एवं पिंटू कुमार एवं कमल बीघा गांव निवासी दिनेश शर्मा का पुत्र शुभम कुमार।

क्या क्या हुआ बरामद

तीन पीस स्क्रीन टच एवं तीन पीस बटन युक्त मोबाइल फोन फर्जी सिम सहित, तीन पीस नाम व मोबाइल नंबर अंकित किया हुआ रजिस्टर,126 पीस ग्राहकों के नाम पता लिखा हुआ आर्डर शीट, एक पंजाब नेशनल बैंक का चेक बुक, ओरिएंटल बैंक का एक पीस एटीएम कार्ड, पीएनबी का एक पीस एटीएम कार्ड, एक पैन कार्ड, एक आधार कार्ड,नगद ₹8000

छापेमारी टीम में कौन-कौन हुआ शामिल
गिरियक सर्किल इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार, कतरीसराय थाना अध्यक्ष शरद कुमार रंजन, गिरियक थाना अध्यक्ष संजीव कुमार, सिलाव थाना अध्यक्ष पवन कुमार सहित अन्य सशस्त्र बल।

खबरें और भी हैं...