स्कूल बंद, हॉस्टल खुला- यहीं फंदे पर लटका मिला स्टूडेंट:राजगीर में 9वीं के छात्र का अंग्रेजी में कथित सुसाइड नोट, लिखा है- मैं चरित्र खो चुका हूं

नालंदा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मरने के पहले यही सुसाइड नोट लिख गया मोनू। - Dainik Bhaskar
मरने के पहले यही सुसाइड नोट लिख गया मोनू।

स्कूलों को बंद करने के सरकारी निर्देश के बाद भी राजगीर में ग्रीन गार्डन स्कूल का हॉस्टल खुला था और यहीं सोमवार सुबह 15 साल के एक किशोर की लाश मिली। उसने पिछले महीने ही यहां 9वीं में नामांकन लिया था। लाश फंदे से लटकी मिली है और उसके पास कथित तौर पर उसका सुसाइड नोट मिला है। इस नोट में लिखा है कि "चरित्र के बगैर जीवन अभिशाप है और मैं चरित्र खो चुका हूं।" 15 साल के लड़के का चरित्र खोना और उस वजह से सुसाइड करना किसी को पच नहीं रहा है। इसलिए अभी यह साफ नहीं कहा जा सकता कि सुसाइड नोट सही है और उसने आत्महत्या ही की है। ऐसे में पुलिस भी आत्महत्या के साथ हत्या के एंगल से भी जांच करेगी।

कमरे में रस्सी के फंदे से लटकी थी लाश

ग्रीन गार्डेन स्कूल का अपना हॉस्टल भी है। इसी हॉस्टल के एक कमरे में छात्र का शव उसके किसी साथी ने देखा तो इस बात की जानकारी स्कूल के प्रिंसिपल को दी थी। सूचना मिलते ही स्कूल के प्रिंसिपल ने पुलिस को जानकारी दी। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। मृतक मोनू कुमार बाढ़ के पंडारक थाना के छबिलातर गांव निवासी सुधीर कुमार का पुत्र था। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की पड़ताल में जुट गई है।

एक महीने पहले ही कराया था नामांकन

मोनू ने ग्रीन गार्डेन स्कूल में एक महीने पहले ही नौंवी क्लास में एडमिशन कराया था। स्कूल के आवासीय परिसर में ही रहकर वह पढ़ाई करता था। कोरोना काल में सरकार द्वारा फिर से स्कूल बंद किए जाने के बाद हॉस्टल में केवल 8 बच्चे ही थे। राजगीर के DSP सोमनाथ भारती ने बताया कि सरकार के निर्देश के बाद स्कूल बंद है, लेकिन हॉस्टल में बच्चे रह रहे हैं। फिलहाल परिजनों को सूचना दे दी गई है। वह गांव से स्कूल पहुंचे हैं। उनसे पूछताछ की जा रही है।

इसी कमरे में मिली है मोनू की लाश।
इसी कमरे में मिली है मोनू की लाश।

परिजनों ने डिप्रेशन की बात से किया इंकार

पुलिस की पड़ताल में परिजनों ने मोनू के डिप्रेशन में होने की बात से साफ इंकार किया है। फिलहाल पुलिस हॉस्टल में मौजूद अन्य छात्रों से इस बारे में जानकारी ले रही है। हॉस्टल के कमरे से लाश मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। लोगों की भीड़ स्कूल में जमा हो गई है। लोग दूर-दूर से स्कूल पहुंच गए हैं।

अंग्रेजी में लिखा सुसाइड नोट मिला

मोनू की अंग्रेजी में लिखा सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। उसने सुसाइड करने से पहले लिखा कि मैं आत्महत्या करने जा रहा हूं, क्योंकि मैंने अपना चरित्र खो दिया है। मैं समझता हूं कि चरित्र के बिना जीवन अभिशाप है। मैं माफी चाहता हूं। लव यू मां एंड मिस यू। पुलिस यह पता कर रही है कि चरित्र खोने की बात का मतलब क्या है।

खबरें और भी हैं...