नालंदा में सड़क हादसे में किसान की मौत:खेत से लौटने के दौरान अज्ञात वाहन ने मारी टक्कर, इलाज के दौरान तोड़ा दम; गुस्साए परिजनों ने किया सड़क जाम

नालंदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक के परिजन। - Dainik Bhaskar
मृतक के परिजन।

नालंदा में एक किसान की सड़क हादसे में मौत हो गई। इससे गुस्साए परिजनों और ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर बिहटा-सरमेरा 2 लेन को जाम कर दिया। दरअसल, सरमेरा थाना क्षेत्र के बिहटा सरमेरा टू लेंन पर मंगलवार की शाम सड़क दुर्घटना में किसान घायल हो गया था। इलाज के दौरान बुधवार की सुबह विम्स में उसकी मौत हो गई। मृतक की पहचान थाना क्षेत्र के मसूमा गांव निवासी स्वर्गीय सत्यनारायण महतो के 55 वर्षीय पुत्र सरोवर महतो के रूप में की गई है।

इलाज के दौरान तोड़ा दम
घटना के संबंध में मृतक का पुत्र हरिराम महतो ने बताया कि पिता देर शाम खेत में कृषि कार्य करके घर लौट रहे थे। उसी वक्त बिहटा सरमेरा टू लेन के गोपालबाद के पास अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। जिसके बाद स्थानीय लोगों की मदद से सरमेरा पीएचसी में भर्ती कराया गया जहां से गंभीर स्थिति को देखते हुए पावापुरी अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां आज सुबह ईलाज के दौरान मौत हो गई।

एक घंटे तक जाम रहा सड़क
घटना के बाद परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर शव को गांव ले जाकर बिहटा सरमेरा टू लेन के गोपाल वाद के पास शव रखकर जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने आक्रोशितों को समझा-बुझाकर जाम को हटाया गया। करीब 1 घंटे तक सड़क जाम रहने के कारण दोनों छोर पर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई।

सरमेरा थाना अध्यक्ष विवेक राज ने बताया कि अज्ञात वाहन ने अधेड़ को टक्कर मार दी थी इलाज के दौरान विम्स में मौत हो गई। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाने की प्रक्रिया में पुलिस जुट गई है। सरकारी प्रावधान के अनुसार मृतक के आश्रितों को मुआवजा दिया जाएगा। मृतक कि 5 पुत्र या एवं एक पुत्र है। अभी मृतक के कंधों के ऊपर चार और पुत्रियों की शादी का भार था। उसके पूर्व ही सड़क दुर्घटना में हुई मौत से परिजनों पर पहाड़ टूट पड़ा है।

खबरें और भी हैं...