पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुरानी रंजिश में विवाद:पैगा में पिता व दो बेटों को मारी गोली, दोनों गुटों ने एक-दूसरे पर दर्ज कराई एफआईआर

नासरीगंज19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गोली से घायल का इलाज करते चिकित्सक। - Dainik Bhaskar
गोली से घायल का इलाज करते चिकित्सक।
  • पुरानी रंजिश में चलाईं गोलियां,

नासरीगंज थाना क्षेत्र के पैगा गांव में शनिवार रात को दो पक्षों के बीच फायरिंग हुई जिसमें आधे दर्जन लोग गम्भीर रूप से घायल हो गए। पुरानी रंजिश को लेकर कई राउंड फायरिंग हुई हैं। सभी घायलों को शनिवार को रात्रि में ही नासरीगंज पीएचसी में प्राथमिक उपचार के बाद विशेष इलाज के लिए शिर्डी धाम अस्पताल में रेफर कर दिया गया है।

इस सबंध में थानाध्यक्ष सुभाष कुमार ने बताया कि उक्त गांव में दोनों पक्षों की ओर से पूर्व के विवाद को ले गोलीबारी की सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस सभी घायलों को पीएचसी उपचार के लिए गत रात्रि लाई जहां से चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के सभी घायलों को शिर्डी धाम अस्पताल रेफर कर दिया। अस्पताल के निदेशक डा जे के मौर्या ने बताया कि घायलों में तीन युवक इलाज के लिए लाए गये हैं। जिसमे का ऑपरेशन के बाद गोली निकाल दी गई है। जिसकी हालत अभी स्थिर है। दूसरे का ऑपरेशन चल रहा है। जो खतरे से बाहर है। घटना में दोनों पक्षों की ओर से अलग अलग प्राथमिकी दर्ज कराई गई है जिसमें दोनों ओर से 9 लोग अभियुक्त बनाये गए हैं।

पहली प्राथमिकी पैगा गांव के सन्तोष सिंह ने की है जिसमें 5 लोग नामजद अभियुक्त बनाये गए हैं जबकि दूसरी प्राथमिकी चन्द्रशेखर सिंह के द्वारा की गई है जिसमें 4 लोग अभियुक्त बनाये गए हैं। घायलों में सन्तोष कुमार,चन्द्रशेखर कुमार,मंतोष सिंह,उत्तम सिंह,डिंपू, और पप्पू सिंह बताए जाते हैं। पुलिस घटनास्थल से दो लोगों को घटना के संबंध में शक के आधार पर पूछताछ के लिए लाई है अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।पुलिस घटना को ले गहन जांच में जुट गई है।सूत्रों के मुताबिक फायरिंग 12 बोर की रायफल से की गई है लेकिन पुलिस अनुसंधान के बाद ही कोई आधिकारिक बयान देने की बात कह रही है। घटना शनिवार मध्य रात्रि की बताई जाती है। घटना के बाद गांव में तनाव है। स्थिति के मद्देनजर पुलिस कैंप कर रही है। फिलहाल कई आरोपी फरार हैं। स्थिति काबू में है।

ऑपरेशन कर निकाली गईं गोलियां

हॉस्पिटल के एमडी डॉ जेके मौर्य ने बताया कि दो भाई संतोष कुमार 25 वर्ष एवं मंतोष कुमार उम्र 22 वर्ष पिता उत्तम सिंह को गोली हाथ में लगी है। इन दोनों के पिता उत्तम सिंह 52 वर्ष को भी कंधे में गोली लगने से कंधे की हड्डी टूटी हुई है। जिसका इलाज किया जा रहा है। न्यूरोलॉजिस्ट डॉ अमित कुमार के सहयोग से तीनों के शरीर से गोली निकाली गई।

खबरें और भी हैं...