पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

प्रधान डाकघर में हुए घोटाले की जांच:डाकघर में 5.57 करोड़ के घोटाले की जांच को पहुंची सीबीआई, पांच घंटे तक खंगाला हेड पोस्टऑफिस

नवादा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लगातार दूसरे सप्ताह नवादा प्रधान डाकघर पहुंची दाे सदस्यीय सीबीआई टीम
  • इस मामले में आधा दर्जन अधिकारी और कर्मचारी जांच के राडार पर

जिले के अब तक सबसे बड़े घोटाले की सीबीआई जांच तेज हो गई है। नवादा प्रधान डाकघर में हुए बहुचर्चित 5. 57 करोड़ के घोटाले की जांच कर रही सीबीआई की टीम लगातार दूसरे सप्ताह नवादा पहुंची। सीबीआई की 2 सदस्यीय टीम ने बुधवार को नवादा प्रधान डाकघर में अधिकारियों के साथ मैराथन पूछताछ की और हेडपोस्ट ऑफिस के दस्तावेजों को खंगाला। सीबीआई टीम ने बैंक और पोस्टऑफिस के बीच हुए जमा निकासी से जुड़े एंट्री रजिस्टर और अन्य कागजात पिछले सप्ताह ही अपने साथ ले गई थी।

इस बार टीम ने उन कागजातों के पूरक कागजातों की भी डिमांड किया और पिछले 5/6 वर्षों में डाकघर और बैंक के बीच में ट्रांजैक्शन का पूरा लेखा-जोखा की जानकारी ली। सूत्रों के अनुसार शुरुआती जांच के दौरान कागजातों में कई खामियां मिली है जिसके चलते टीम ने डाक अधिकारियों से उन कागजातों के पूरक कागजातों की मांग की। बता दें कि एफआईआर तो मृतक अंबिका चौधरी और तात्कालिक डाक अधीक्षक कपिल देव यादव के खिलाफ है, लेकिन इस मामले में आधा दर्जन अधिकारी और कर्मचारी जांच क रडार पर है।

एफआईआर मृतक अंबिका चौधरी और तात्कालिक डाक अधीक्षक कपिल देव यादव के खिलाफ दर्ज है

प्रधान डाक घर में हुआ था करोड़ों का घोटाला
पिछले साल की शुरूआत में नवादा प्रधान डाक घर में करोड़ों रुपए का कैश शार्टेज आने के बाद हड़कंप मच गया था। कैश गायब होने का मामला सामने आने के बाद जांच शुरू हुई। जांच कमेटी की रिपोर्ट में पोस्टमास्टर और कैशियर की मिली भगत से करोड़ों की वित्तीय अनियमितता सामने आई है। बड़ी राशि के गबन होने की बात सामने आने के बाद विभाग ने पोस्टमास्टर कपिलदेव यादव और कैशियर अंबिका चौधरी को निलंबित कर दिया। इसके बाद दोनों के खिलाफ टाउन थाने में एफआईआर कराया गया है। जांच आगे बढ़ी तो घोटाले की राशि 5 करोड़ पार कर गई। हालांकि बाद में करीब ढाई करोड़ रुपए जमा करा दिया गया। शेष पैसा वापस नहीं आ पाया है।

चौथी बार डाकघर पहुंची सीबीआई की टीम, पोस्ट ऑफिस में सन्नाटा

इस घोटाले से जांच के मामले में सीबीआई की टीम तीसरी बार पहले भी नवादा आ चुकी है। यानि सीबीआई की टीम मार्च महीने में दो बार और 8 सितंबर को भी प्रधान डाकघर आई थी। बता दें कि 5 करोड़ 57 लाख के घोटाला सामने आने के बाद पूरा सिस्टम हरकत में आ गया था। राज्य सरकार की अनुशंसा पर गृह विभाग द्वारा करोड़ों के डाकघर घोटाले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई थी। 14 मार्च 2020 को सीबीआई के पटना मुख्यालय में इससे संबंधित प्राथमिकी दर्ज की गयी थी।

दर्ज कांड संख्या 06/2020 में नवादा प्रधान डाकघर के पोस्टमास्टर कपिलदेव यादव व खजांची अम्बिका चौधरी आरोपित हैं। इनमें से आरोपी खजांची अम्बिका चौधरी की 20 जनवरी को मौत हो चुकी है। जबकि पोस्टमास्टर फिलहाल जमानत पर हैं। सीबीआई के जांच अधिकारियों के आने की सूचना के बाद नवादा हेड पोस्ट ऑफिस में हड़कंप मचा गया। आम दिन एजेंटों और अन्य लोगों से पटे रहने वाले दफ्तरों में सिर्फ कर्मचारी ही दिखे। इस दौरान सीबीआई की टीम ने डाक अधीक्षक शिवशंकर मंडल, सहायक डाक अधीक्षक तथा डाक निरीक्षक से कई जानकारियां हासिल की।

वीडियो में कही थी कई लोगों के शामिल होने की बात
बता दें कि मरने से पहले आरोपी खजांची ने इस मामले में कई लोगों के शामिल होने की बात कही थी। उसने इस घोटाले में 7 लोगों के शामिल होने की बात कही है। वीडियो में वह नवादा प्रधान डाकघर के 7 अधिकारियों और कर्मचारियों पर आरोप इस कांड में शामिल होने की बात कहता है। वीडियो में कही गई बात में कितनी सच्चाई है यह तो सीबीआई जांच पूरी होने के बाद ही सामने आएगा। सीबीआई हर एंगल को लेकर जांच कर रही है।
12 दिनों के भीतर निकले ढाई करोड़
वित्तीय अनियमितता सामने आने के बाद गठित जांच टीम ने जो रिपोर्ट सौंपी है उसके अनुसार 2019 के जनवरी महीने के 12 दिनों के भीतर डाकघर के ढाई करोड़ रुपए गायब कर दिए गए हैं। दरअसल स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से डाकघर के लिए पांच किस्तों में तीन करोड़ 50 लाख रुपए निकाले गए। लेकिन इनमें से सिर्फ एक करोड़ रुपए डाकघर में जमा किए गए बाकी रुपए गायब कर दिए गए। यह पैसे 16 से 28 जनवरी 2019 तक निकाले गए थे। इससे पहले 2017-18 में भी तीन करोड़ से ज्यादा राशि की अनियमितता किए जाने का मामला प्रकाश में आया और इस तरह से 5 करोड़ 57 लाख रूपए की हेराफेरी सामने आ गई।


आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें