नवादा में भतीजे ने चाचा को मारी गोली:दरवाजा बंद करने को लेकर हुआ विवाद, पंचायती के बाद गुस्साए भतीजे ने चलाई गोली; गंभीर रूप से घायल

नवादा10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में घायल का बयान लेती पुलिस। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में घायल का बयान लेती पुलिस।

नवादा के कादिरगंज थाना क्षेत्र के कादिरगंज बाजार में दरवाजा बंद करने को लेकर चाचा और भतीजा में विवाद हो गया। इसी विवाद के दौरान भतीजा ने चाचा पर गोली चला दी। इससे 2 लोग घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने दो लोगों को चिंताजनक हालत में नवादा के सदर अस्पताल में भर्ती कराए है।

इस मामले के संबंध में कादिरगंज थाना प्रभारी ने कहा है कि- आपसी विवाद में गोली चली है। इसमें दो लाेग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल व्यक्ति के भतीजे पर गोली चलाने का अरोप लगा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

कादिरगंज बाजार के निवासी मोती चौधरी के घायल पुत्र जोगिंदर चौधरी ने बताया कि- उसके चचेरे भाई नीतीश ने अपने मोती पर गोली चलाई। गोली मोती के सीना को चीरते हुए एक बच्चे को लग गई। इससे दोनों घायल हो गए। इसके बाद चिंताजनक हालत में बच्चे को पटना रेफर किया गया है।

घायल के पुत्र जोगिंदर ने कहा कि उसके चाचा कालू चौधरी के पुत्र नीतीश चौधरी ने गोली चलाई है। बताया कि उसके पिता हमेशा उसे नीतीश चौधरी को दरवाजा रात में बंद करके सोने जाने को कहते है। लेकिन वो रात में दरवाजा खोल देता थे। इसी को लेकर आज सुबह में विवाद बढ़ गया। फिर गांव के लोगों ने पंचायत लगाकर दोनों को समझा-बुझाकर मामला को शांत कराया।

पंचायती में चाचा-भतीजा में समझाैता हो गया। भतीजे नीतीश ने किराया के मकान में रहने का फैसला लिया। और घर खाली करने लगा। घायल के बेटे ने आरोप लगाया कि नीतीश के बड़े भाई ने नीतीश को फोन कर कहा कि घर खाली नहीं करो और उसे गोली मार दो। इसी के बाद उसने मोती को गोली मार दी। गोली चलने से गांव का एक बच्चा भी घायल हो गया। घायल बच्चे की पहचान संतोष चौधरी के पुत्र विकास कुमार (10) के रूप में हुई। घायल बच्चे को चिंताजनक हालत में पटना रेफर किया गया।