पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चलो मतदान करें हम:जिला आईकॉन दिव्यांग विनय मतदान के लिए कर रहे जागरूक

नवादा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिव्यांग मतदाताओं के लिए जिला निर्वाचन से उपलब्ध सुविधाओं के बारे में जानकारी दी जा रही है

जिले में प्रथम चरण में बिहार विधानसभा का चुनाव होना है। चुनाव 28 अक्टूबर को है। इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से मतदाता जागरूकता रथ द्वारा सभी विधानसभा में बूथ स्तर पर जाकर कोविड 19 गाइडलाइन का पालन करते हुए वोट देने को प्रेरित किया जा रहा है। वहीं चुनाव के जिला आइकॉन विनय कुमार सिन्हा द्वारा दिव्यांग मतदाताओं के पास जाकर दिव्यांग मतदाताओं के लिए जिला निर्वाचन से उपलब्ध सुविधाओं के बारे में जानकारी दी जा रही है तथा दिव्यांग वोटरों को हरहाल में मत के अधिकार का पालन करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसके अलावा जीविका, आंगनबाड़ी सेविका, शिक्षा विभाग द्वारा भी वोटरों के बीच जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। जागरुकता अभियान से जुड़े हर लोग सभी संस्थाओं का एक ही लक्ष्य है कि लोकतंत्र के महापर्व में शत प्रतिशत वोटरों की भागीदारी हो।

जागरुकता अभियान चला रहे दिव्यांग विनय
जिले के दिव्यांग मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करने की जिम्मेदारी दोनों हाथों के दिव्यांग विनय कुमार सिन्हा को दी गई है। वे नवादा जिले में निर्वाचन आयोग के जिला आइकॉन हैं। पीडब्ल्यूडीएस मतदाताओं की सहभागिता बढ़ाने एवं उनमें जागरुकता लाने के लिए विनय कुमार सिन्हा शहर तो दूर सुदूरवर्ती व नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में भी घूमकर दिव्यांग मतदाताओं को जागरूक करने में लगे है। विनय कुमार सिन्हा पोस्टमार्टम रोड, शिव नगर, नवादा के शम्भु शरण प्रसाद के पुत्र हैं।

आर्थिक तंगी के बावजूद सामाजिक दायित्वों से पीछे नहीं हटते, एक हादसे में गंवाना पड़ा था दोनों हाथ
विनय कुमार सिहा भले ही दोनों हांथों से पूर्णतः दिव्यांग हैं लेकिन सामाजिक दायित्वों में पीछे नहीं हटते हैं। बीते साल 25 जनवरी को दिव्यांगों के लिए जिला निर्वाचन द्वारा जिला आईकाॅन बनाए जाने के बाद वे अब तक 200 से अधिक घरों में दस्तक दे चुके हैं। वे बताते हैं निर्वाचन आयोग से जिम्मेवारी मिलने के बाद शहर के प्रत्येक वैसे घरों में सम्पर्क किया जहां दिव्यांग मतदाता हैं। उन्होंने बताया बचपन से शारीरिक बनावट बहुत ही सुन्दर एवं आकर्षक था। जन्म से अपंग नहीं थे।

एक दर्दनाक दुर्घटना में दोनों हाथ कट गया तथा भारी करेंट लगने से एक पैर भी आधा क्षतिग्रस्त हो गया। फिर भी उन्होंने अपनी जीवन से हार नहीं मानी। दृढ़ विश्वास के साथ आगे बढ़ते रहे तथा अपने अपंग शरीर के सहारे ही सबकुछ करने का संकल्प लिया एवं सफलता पाई। कैरम,शतरंज,बैडमिंटन,क्रिकेट उनका प्रिय खिलाड़ी है। वे बताते हैं जब सात साल का था उसी वक्त करंट लग गया,जिससे दोनों हाथ गवाने पड़े। लेकिन हाथ गवाने के बाद भी हौसला बरकरार रखा और किसी भी मामले में पीछे नहीं रहा। दिव्यांगता के बावजूद स्नातक तक पढ़ाई की।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें