पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तिल के उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने की तैयारी:किसानों को मुफ्त में मिलेगा बीज, प्रोत्साहित करेंगे कर्मी

नवादा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक में कृषि विभाग के अधिकारी व अन्य कर्मी। - Dainik Bhaskar
बैठक में कृषि विभाग के अधिकारी व अन्य कर्मी।

जिले में बड़े पैमाने पर तिलकुट का कारोबार होता है लिहाजा यहां तेल की खपत भी बड़ी मात्रा में होती है। इसलिए तिल के उत्पादन में नवादा को आत्मनिर्भर बनाने की तैयारी चल रही है। जिले के किसानों को तेल के बीच मुफ्त में मुहैया कराए जाएंगे। इसके लिए इलाके चिन्हित किए गए हैं। इस अभियान को सफल बनाने को लेकर बुधवार को संयुक्त कृषि भवन शोभिया कृषि फार्म में जिला कृषि पदाधिकारी लक्ष्मण प्रसाद की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई।
बैठक में जिला कृषि पदाधिकारी ने जिला के सभी प्रखंड के प्रखंड कृषि पदाधिकारी, प्रखंड के नोडल कृषि समन्वयक, बी टी एम के साथ संवाद कार योजना की समीक्षा की। कृषि अधिकारी ने कहा कि नवादा और गया में बड़े पैमाने पर तिलकुट शहीद तिल से बने उत्पादों का कारोबार होता है। दुख की बात यह है कि यहां बाहर से तिल मंगाना पड़ता है। ऐसे में कैसे विभाग द्वारा नवादा को तिल के उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए अभियान चलाया जाएगा। तिल की खेती करने के को प्रोत्साहित करने के लिए किसानों को मुफ्त में तिल के बीज उपलब्ध कराए जाएंगे।
खाद की कालाबाजारी रोकने के लिए सख्त निर्देश
बैठक में खाद की कालाबाजारी रोकने पर भी चर्चा की गई। जिला कृषि पदाधिकारी ने कृषि कर्मियों को बताया कि किसानों के हित में खाद की कालाबाजारी पर सख्त नजर बनाये रखें ताकि किसान भाइयों को खाद की आपूर्ति उचित मूल्य पर हो। ई किसान भवन के समुचित प्रबंधन के बारे में बताया कि व्यवस्था सही रहना चाहिए और धान की वैज्ञानिक खेती के लिए किसानों को उचित और समयानुसार तकनीकी जानकारी प्रदान करते रहें ताकि किसान को अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त हो।राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन अंतर्गत मिनी किट, तिल बीज का वितरण किया जा रहा है और कलस्टर में लगाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...