पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार-झारखंड बॉर्डर पर लगा महाजाम:पंचायत चुनाव को लेकर चल रहा सघन तलाशी अभियान, 72 घंटों से 20 KM के जाम में फंसे लोग

नवादा15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बिहार-झारखंड की जोड़ने वाली महत्वपूर्ण सड़क एनएच-31 पर रांची, कोलकाता आने-जाने वाली गाड़ियों की लंबी कतार लग गई है। - Dainik Bhaskar
बिहार-झारखंड की जोड़ने वाली महत्वपूर्ण सड़क एनएच-31 पर रांची, कोलकाता आने-जाने वाली गाड़ियों की लंबी कतार लग गई है।

नवादा जिले के नक्सल प्रभावित इलाका बिहार-झारखंड के बॉर्डर चितरकोली स्थित समुचित जांच चौकी पर उत्पाद विभाग के द्वारा झारखंड की ओर से आने वाले सभी वाहनों की सघन तलाशी ली जा रही है। जिसके कारण लगे लंबे जाम में फंसे कर लोग त्राहिमाम कर रहे हैं। पुलिस को एक गाड़ी की तलाशी लेने में लगभग 20 से 25 मिनट का समय लग रहा है। इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि पटना-रांची रोड एनएच-31 पर क्या स्थिति बन गई है।

यह बिहार-झारखंड की जोड़ने वाली महत्वपूर्ण सड़क है। बड़े पैमाने पर इस रोड पर गाड़ी चलती है। जाम से रांची, कोलकाता, टाटा आने-जाने वाली गाड़ियों की लंबी कतार लग गई है। पिछले 72 घंटे से रजौली चेक पोस्ट से लेकर यह जाम कोडरमा तक पहुंच गया है, जिससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

इस महाजाम को देखकर बहुत सारे लोग गया होकर रजौली और नवादा पहुंच रहे हैं। जो लोग बीच घाटी में आकर फंसे हुए हैं, ना तो उनका मोबाइल काम कर रहा है, ना तो उनके पास खाने का कोई समान है। ऐसे में अपनों से वह मदद भी नहीं मांग सकते हैं। ना अपनों को बता पा रहे हैं कि वह जाम में फंसे हुए हैं। इससे उनके घरवाले भी चिंतित हो रहे हैं।

खबरें और भी हैं...