पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सावधानी जरूरी:ठंड का हाईअलर्ट! 12 वर्ष में पहली बार नवंबर में 10 डिग्री सेल्सियस तापमान

नवादा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • खेती के लिए फायदेमंद व स्वास्थ्य के लिए घातक है बढ़ती ठंड

इस बार ठंड दशकों का रिकॉर्ड तोड़ने के मूड में। नवंबर माह में ही जनवरी जैसी सर्दी दिख रही है। बुधवार को तापमान का पारा हल्का बड़ा लेकिन फिर भी न्यूनतम तापमान 11 डिग्री दर्ज किया गया। जबकि 2 दिन पहले तक न्यूनतम पारा 10 डिग्री तक आ गया था। जिले मेंं रविवार सुबह से ही मौसम में बदलाव होना शुरू हो गया था । और यह अब तक बना हुआ है। पिछले 10-12 साल में ऐसा पहली बार हुआ है जब जनवरी की ठिठुरन नवंबर में ही शुरू हो गई। पिछले 5 दिनों में रात और दिन का तापमान सामान्य से 8 डिग्री गिरा है। नवंबर में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री रिकॉर्ड हुआ है जो अब तक 12 साल में सबसे कम है। आमतौर पर जनवरी में सामान्य से 6 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज होता है, लेकिन इस बार नवंबर में ही ऐसा देखने को मिला। सोमवार तथा मंगलवार की रात और बुधवार की सुबह तड़के तक न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस तक रिकॉर्ड हुआ है जो सामान्य से 4 डिग्री ज्यादा गिरा है। इस कारण कड़ाके की सर्दी सवा महीना पहले ही महसूस होने लगी है। वहीं,जिले की रातें के मुकाबले काफी ठंडी हो गई हैं। मौसम विशेषज्ञ बताते हैं कि नवंबर 10 साल में पहली बार हुआ है, जब ऐसा मौसम देखा गया। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले एक-दो दिनों तक मौसम ऐसा ही बना रहेगा और, आंशिक बादल छाएंगे। एक-दो जगह पर हल्की बारिश होने की संभावना है। बुधवार को अधिकतम तापमान 25 डिग्री तक रिकॉर्ड हुआ है।

सुबह-शाम ठिठुरन के अलावा दिन में भी हो रही सिहरन

शीतलहर जैसी हालत
अभी पानी वाली शीतला हरी तो नहीं दिख रही है लेकिन हालात शीतलहर जैसे ही हैं। आमतौर पर जब रात का तापमान सामान्य से 5 डिग्री या ज्यादा कम हाे, तब शीतलहर चलना माना जाता है। जिले में फिलहाल यही स्थिति है और रात का तापमान सामान्य से 6 से 7 डिग्री तक कम हो जा रहा है।

श्वास रोगों में इजाफा

सीएस डॉ विमल प्रसाद बताते हैं कि लगातार बढ़ रही ठंड बीमारियों को भी बढ़ाएगी। ऐसी ठंड में सूखापन ज्यादा हाेता है। इसकी वजह से श्वांस संबंधी बीमारियां बढ़ती हैं। अस्थमा, ब्राेंकाइटिस, फेफड़ें से जुड़ी बीमारियां बढ़ती हैं। इन सभी बीमारियाें से बचने के लिए सावधानी बरतने की जरूरत है। बुजुर्ग व बच्चे सुबह 8 से पहले व रात काे 8 बजे के बाद घर से निकलने से बचें। संक्रमण का भी खतरा है लिहाजा बिना मास्क के तो एकदम नहीं निकले।

इसलिए बना ऐसा मौसम...
मौसम विशेषज्ञ के मुताबिक पिछले दिनों वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते निकटवर्ती राज्यों में बारिश हुई है। इसके अलावा समुद्री सर्द हवा से भी नमी मिल रही है। इसके चलते ठंड के साथ ही बादल भी छा रहे हैं। हवा का चक्रवाती घेरा पश्चिमी की ओर ईरान- ईराक, अफगानिस्तान- पाकिस्तान हाेता हुआ देश के उत्तरी हिस्से में पहुंचता है। इसके कारण उत्तराखंड, हिमाचल, जम्मू- कश्मीर समेत उत्तरी हिस्से में बर्फबारी या बारिश हाेती है। इसका असर हमारे यहां भी पड़ता है।

रबी फसल को फायदा
बढ़ रही ठंड से रवि फसल को फायदा होने का अनुमान है। कृषि वैज्ञानिकों के अनुसार सर समय ठंड का आना खेती- किसानी के लिए अच्छा है। गेहूं, चना समेत रबी सीजन की अन्य फसलाें के लिए ऐसी ठंड फायदेमंद रहेगी। सबसे ज्यादा लाभ गेहूं की फसल काे हाेगा। ठंड बढ़ चुकी है ऐसे में गेहूं की बाेवनी लाभदायक है। बीजाें के अंकुरण एवं पाैधाें की वृद्धि के लिए यह सर्दी अनुकूल रहेगी।


आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser