गिरफ्तारी:एक लाख दहेज के लिए ससुराल वालाें ने बहू को जिंदा जलाया, आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी

नवादा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस ने श्मशान घाट से शव को किया बरामद, पिता के आवेदन पर दामाद व समधि को बनाया आरोपी

वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के मसुदा गांव मे दहेज लोभी ससुराली परिजनों ने महज एक लाख रुपए के लिए बहु को जिंदा जलाकर मार देने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। सूचना पर पुलिस हरकत में आई और मृतका के शव को गांव स्थित श्मशान घाट से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पड़ोसियों से सूचना मिलने के बाद पिता अर्जुन चौधरी ने वारिसलीगंज थाने में आवेदन देकर दामाद पिंटू कुमार और समधि छोटेलाल चौधरी पर पैसे के लिए बेटी 22 वर्षीय विंदु देवी की हत्या करने का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई है। बताया जाता है कि बुधौली निवासी अर्जुन चौधरी अपनी बेटी की शादी दो वर्ष पूर्व मकनपुर पंचायत की मसुदा ग्रामीण छोटेलाल चौधरी के पुत्र पिन्टू कुमार के साथ की थी। शादी के कुछ माह बाद से हीं पिन्टू अपनी पत्नी पर मायके से दहेज के रूप में एक लाख रुपए मांगने का दबाब बनाने लगा था। रुपए नहीं मिलने पर पति उसके साथ मारपीट करता रहता था। इस बीच मृतक छह माह पहले बेटे काे भी जन्म दी। पटना रेफर कर दिया था रास्ते में दम ताेड़ा: चबेटी को इलाज के लिए पटना लेकर जाने लगा। इस दौरान उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। इस संबंध में थानाध्यक्ष सह प्रशिक्षु डीएसपी कुमार देवेन्द्र ने बताया कि शव को मसुदा गांव स्थित श्मशान घाट से बरामद कर लिया गया। मृतका के पिता के आवेदन पर मृतका के पति पिन्टू व ससुर अर्जुन चौधरी के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

केरोसिन डालकर आग लगा दिया
आरोप है कि घटना के दिन आरोपी पति तथा ससुर विंदु को घर में बंद कर उसके शरीर पर केरोसिन छिड़ककर आग लगा दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। थाने पहुंचे मृतका के पिता ने बताया कि मंगलवार को लगभग दो बजे मसुदा गांव के एक व्यक्ति नेफोन पर सूचना देते हुए बताया कि आपकी बेटी को जला दिया गया है।उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आनन-फानन में अपने अन्य परिवार के साथ अर्जुन सदर अस्पताल पहुंचा। जहां अपनी बेटी को अस्पताल के बेड पर पड़ा पाया।

खबरें और भी हैं...