पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मकर संक्रांति:आज ही बनेगी मकर संक्रांति, 2 बजे के बाद ही सूर्य के मकर में प्रवेश के साथ ही खरमास खत्म

नवादा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस बार तिथि पर कोई मतभेद नहीं,4 साल में 15 जनवरी के बाद इस साल फिर 14 जनवरी को मन रही सक्रांति

पिछले 4 सालों से लगातार मकर संक्रांति मनाने की तिथि को लेकर मतभेद होता आ रहा था लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो रहा है। इस बार निर्विवाद रूप से 14 जनवरी को ही मकर संक्रांति मनाई जाएगी। नवादा जिला ब्राह्मण महासभा के प्रवक्ता पंडित विद्याधर शास्त्री के मुताबिक 14 जनवरी को दोपहर दो बजकर 30 मिनट पर सूर्य का प्रवेश मकर राशि में हो रहा है। धर्मशास्त्र के अनुसार यदि दिन में सूर्य का संक्रमण होता है तो संक्रांति का पुण्यकाल उसी दिन रहता है। वहीं इस वर्ष श्रवण नक्षत्र में मकर संक्रांति हो रही है।

इससे महंगाई पर नियंत्रण करने के प्रयास तेज होंगे। पंडित विद्याधर शास्त्री के अनुसार सूर्य प्रत्येक मास में एक राशि पर भ्रमण करते हुए 12 माह में सभी 12 राशियों का भ्रमण कर लेते हैं। फलत: प्रत्येक माह की एक संक्रांति होती है। सूर्य जब मकर राशि में प्रवेश करते हैं तो इसे मकर संक्रांति कहते हैं। इसका महत्व इसलिए है क्योंकि इस दिन सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं। उत्तरायण काल को ही प्राचीन ऋषियों ने साधनाओं का सिद्धिकाल व पुण्यकाल माना है। हर बार 14 या 15 जनवरी को यह पुण्य काल हो रहा था। इस बार यह संयोग 14 जनवरी को हो रहा है।

सूर्य साधना का दिन है मकर संक्रांति
पंडित विद्याधर शास्त्री के अनुसार मकर संक्रांति भगवान सूर्य का प्रिय पर्व है। सूर्य की साधना से त्रिदेवों की साधना का फल प्राप्त होता है। ज्ञान-विज्ञान, विद्वता, यश, सम्मान, आर्थिक समृद्धि सूर्य से ही प्राप्त होती है। सूर्य इस ग्रह मंडल के स्वामी हैं। ऐसे में सूर्योपासना से समस्त ग्रहों का कुप्रभाव समाप्त होने लगता है।

अफवाह में न पड़े, गुरुवार को वर्जित नहीं है तिल
मकर संक्रांति के दिन तिल और तिल से बने खाद उत्पादों की प्रमुखता होती है।इस बीच एक अफवाह यह चल रही है कि गुरुवार को तिलसोना या ग्रहण करना वर्जित है। पंडित विद्याधर शास्त्री ने कहा कि यह बस महज अफवाह है। तिल सिर्फ रविवार को वर्जित है बाकी सभी दिन तिल का सेवन हो सकता है। बल्कि गुरुवार भगवान विष्णु का दिन है और तिल की उत्पत्ति भगवान के पसीने से हुई है। ऐसे में गुरुवार को तिल का सेवन पुन्नदाई है। ​​​​​​​

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser