• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Nawada
  • Nawada News; Railway Candidates Continued To Target Police Force At Station, Damage To Property Worth Crores

नवादा में 6 घंटे तक रेलवे स्टेशन बना रणक्षेत्र:रुक-रुक कर पुलिस बल को निशाना बनाते रहे छात्र, रेलवे की करोड़ों की संपत्ति का नुकसान

नवादा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उग्र भीड़ को समझाने पहुंचे एसडीओ। - Dainik Bhaskar
उग्र भीड़ को समझाने पहुंचे एसडीओ।

रेलवे की एनटीपीसी परीक्षा के पैटर्न व परिणाम को लेकर नवादा में भी छात्रों का गुस्सा भड़क गया। तकरीबन 11 बजे छात्रों का हुजूम रेलवे स्टेशन पर पहुंच गया। प्रदर्शनकारियों ने केंद्र सरकार व रेलवे के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। देखते ही देखते छात्रों का बड़ा समूह जुट गया। रेलवे ट्रैक पर किनारे पड़ी लोहे की पटरियों को डाल रेलवे परिचालन बाधित करने का प्रयास किया गया। पैनल रूम में तोड़फोड़ की गई।

रेलवे लाइन पर उठा कर रखा पटरी।
रेलवे लाइन पर उठा कर रखा पटरी।

स्टेशन पर प्रदर्शन की सूचना मिलते ही पुलिस बल वहां पहुंच गई। पुलिस बल पर नजर पड़ते ही प्रदर्शनकारी छात्र एकाएक उग्र हो गए और पुलिस पर रोड़ा चलाना शुरू कर दिया। इसके बाद स्थिति तनावपूर्ण हो गई। जिसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई शुरू की और प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। पुलिस की ओर से कार्रवाई शुरू होने के बाद छात्रों का गुस्सा और भड़क गया और फिर जमकर पथराव शुरू हो गया। टेपरिंग मशीन व जेनरेटर में आग लगा दी गई। छात्रों ने रेलवे ट्रैक के पेंडू क्लिप को खोल दिया। आउटर सिग्नल और रेल फाटक को पूरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया। आग बुझाने पहुंची दमकल पर भी पथराव करते हुए उसे क्षतिग्रस्त कर दिया गया।

रेलवे स्टेशन पर रोड़ा से तब्दील स्टेशन।
रेलवे स्टेशन पर रोड़ा से तब्दील स्टेशन।

रेलवे स्टेशन पर पथराव शुरू होते ही अफरातफरी मच गई। यात्री जान बचाकर इधर-उधर भागने लगे। पथराव देख पुलिस बल को भी बैकफुट पर आना पड़ा। रेलवे अधिकारी, कर्मी अंदर दुबक गए। हर कोई अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागते रहे। उग्र छात्रों ने मीडियाकर्मियों को भी निशाना बनाया।

दूर-दूर तक चलती मेंटेनेंस गाड़ी।
दूर-दूर तक चलती मेंटेनेंस गाड़ी।

छात्रों के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए जीआरपी, आरपीएफ के साथ ही नगर, मुफस्सिल, कादिरगंज, बुंदेलखंड थाना की पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया। जवाबी कार्रवाई करते हुए प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। पथराव में जिला पुलिस बल के जवान रविंद्र सिंह व जीआरपी ऋषि कुमार जख्मी हो गए। बाद में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दर्जन भर से अधिक छात्रों को हिरासत में ले लिया। रेलवे ट्रैक के किनारे छात्रावासों में घुस-घुसकर उपद्रव के आरोप में छात्रों को पकड़ा गया। इधर, पुलिस उपद्रवियों की पहचान में जुट गई है।

खदेड़ कर लाठी बरसाती पुलिस।
खदेड़ कर लाठी बरसाती पुलिस।

इधर, प्रदर्शन करने वाले छात्रों का कहना है कि वे सभी रेलवे स्टेशन पर शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। अचानक रेलवे गुमटी की तरफ से पथराव शुरू हो गया। जिससे वे सभी भी हक्के-बक्के रह गए। उनका कहना था कि आंदोलन की आड़ में उपद्रवियों ने पूरे प्रदर्शन को उग्र कर दिया। छात्रों के उग्र प्रदर्शन के बाद रेलवे परिचालन पूरी तरह ठप हो गया।

सिग्नल क्रॉसिंग छतिग्रस्त।
सिग्नल क्रॉसिंग छतिग्रस्त।

स्टेशन प्रबंधक अवधेश कुमार सुमन ने बताया कि काफी क्षति हुई है। जिसका आकलन किया जा रहा है। प्रदर्शनकारियों का उग्र रवैया निराशाजनक है। उपद्रव में रेलवे में करोड़ों का नुकसान हुआ। विभाग क्षति का आकलन करने में जुटा है। साथ ही रेल परिचालन शुरू कराने का प्रयास किया जा रहा है।

कहा कि गया-हावड़ा एक्सप्रेस व गया-जमालपुर पैसेंजर को रद कर दिया गया है। गया-कामाख्या एक्सप्रेस का रूट परिवर्तन किया गया और पीजी रेलखंड से रवाना किया गया। आठ मालगाड़ियां जहां-तहां स्टेशनों पर खड़ी हैं। फिलवक्त दो मालगाड़ियों को तिलैया-राजगीर रेलखंड से रवाना किया गया। इधर, रेल परिचालन बाधित होने और ट्रेन स्थगित किए जाने के बाद यात्रियों को काफी परेशानी हुई। यात्री मायूस होकर घर लौट गए।