पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:नारदीगंज में लॉकडाउन के नियमों की उड़ रहीं धज्जियां

नवादा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नारदीगंज बाजार में उमड़ी भीड़ - Dainik Bhaskar
नारदीगंज बाजार में उमड़ी भीड़

नारदीगंज कोरोना वायरस के चैन को तोड़ने के लिए बिहार सरकार ने पूरे प्रदेश में लॉकडाउन की घोषणा की है। जो 5 मई के मध्य रात्रि से लागू हो गया है और 15 मई के मध्य रात्रि तक लागू रहेगा। इसका उद्देश्य प्रदेश में तीव्र गति से बढ़ रहे कोरोना के चैन को तोड़ना है।ताकि वायरस से संक्रमण का खतरा कम हो सके।लेकिन प्रखंडक्षेत्र में इसका असर नही देखा जा रहा है। सरकार के गाइड लाइन के अनुसार लॉक डाउन में क्लीनिक और दवा की दुकानें पूर्व की भांति खुलते रहेंगे। वहीं किराना दुकान, सब्जी, दूध इत्यादि दुकानें प्रतिदिन सुबह सात बजे से ग्यारह बजे तक खुला रहेगा।शेष सभी दुकानें 15 मई तक बंद रहेगा। लेकिन सरकार के इस आदेश को मानने के लिए प्रखंड के व्यापारी तैयार नहीं है। सुबह होते ही सभी दुकानदारों ने अपनी अपनी दुकान खोलकर सामानों के बिक्री में लग गए। नारदीगंज थाना, ब्लॉक और अंचल कार्यालय से लगभग 100 मीटर की दूरी पर होते रहा।लेकिन कोई भी अधिकारी 11 बजे तक इसे रोकना उचित नहीं समझा।

लॉकडाउन उल्लंघन के मामले में 33 वाहनों से वसूला गया जुर्माना

पकरीबरावां| बुधवार को अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मुकेश कुमार साहा ने लॉक डाउन उलंघन के मामलें में कुल 25 वाहनों से पच्चीस हजार रुपए का जुर्माना वसूला है। एसडीपीओ ने बताया की बिना पास के एक भी वाहनों को सड़कों पर चलने की अनुमति नहीं है। जो भी बेवजह सड़कों पर निकलेंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं, दूसरी ओर पकरीबरावां पुलिस द्वारा भी पुलिस चेक पोस्ट पर जांच अभियान चलाया गया। पकरीबरावां थाना से मिली जानकारी के अनुसार वाहन जांच में 8 वाहनों से जुर्माना वसूला गया है। कुल मिलाकर पकरीबरावां क्षेत्र में 33 हजार जुर्माने की वसूली की गई है। पकरीबरावां एसएचओ ने बताया कि सभी लोगों को लॉक डाउन तक घरों में रहकर कोरोना महामारी को हराने में प्रशासन को मदद करने की जरूरत है। बेवजह सड़कों पर घूमने वाले लोगों की खैर नहीं है।

खबरें और भी हैं...