पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आस्था:प्रतिमा निर्माण के लिए भक्तों की है बड़ी लम्बी कतार

नवादाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्षों इंतजार के बाद लोगों को प्राप्त होता है यह सौभाग्य, रेवार महाशक्ति दुर्गा मंदिर की मां दुर्गा की है महिमा अपरंपार

पकरीबरावां प्रखंड के ढोढ़ा पंचायत के रेवार गांव की महाशक्ति मां दुर्गा काफी यशवाली है। इनकी ख्याति दूर-दूर तक फैली है। जो भी सच्चे मन से मां से कुछ मांगते हैं, उनकी मुरादें अवश्य पूरी होती है। यहां की महाशक्ति मां दुर्गा की महिमा अपरंपार है। वर्ष 1923 में गांव के हरसहाय लाल ने इसकी स्थापना की थी। तब से पूजा शुरू हुई। बताते हैं कि लोगों की मन्नतें पूरी होने लगी तो लोग प्रतिमा निर्माण के लिए आगे आने लगे। प्रतिमा निर्माण के लिए भक्तों की आपाधापी को देखते हुए वर्ष 1995 से नम्बर लगाने का सिलिसला शुरू हुआ। समिति के अध्यक्ष रघुनन्दन प्रसाद कोचगवे ने बताया कि यहां प्रतिमा बनवाने के लिए वर्ष 2042 तक नम्बर लगा हुआ है। इस वर्ष धमौल के तालकेश्वर प्रसाद विश्वकर्मा प्रतिमा का निर्माण करवा रहे हैं। प्रतिमा निर्माण से लेकर पूजा का सारा खर्च वे उठा रहे हैं। उन्होंने वर्ष 2009 में नम्बर लगाया था। 11 वर्ष पर उनका नम्बर आया है।

बली प्रदान की है परंपरा| रेवार की महाशक्ति मां दुर्गा को बली प्रदान करने की परंपरा चलती आ रही है। यहाँ प्रत्येक वर्ष सैकड़ों पाठे की बली पड़ती है। अष्टमी को जागरण से ही बली प्रदान करने का कार्य शुरू हो जाता है। सर्वप्रथम सरकारी बली दी जाती है। इसके बाद लोग अपने पाठे की बली देते हैं। पूजा समिति के लोगों ने बताया कि प्रत्येक वर्ष 500-600 पाठे की बली पड़ती है। लोग दूर-दूर से बली प्रदान करने आते हैं। इसके लिए भी लोगों को नम्बर लगाना पड़ता है।

बड़े ओहदे वाले भी नवरात्र में पहुंचते हैं दर्शन को रेवार
रेवार की महाशक्ति मां दुर्गा की महिमा इतनी निराली है कि देश के विभिन्न शहरों में बड़े ओहदे पर पोस्टेड रेवार के लोग नवरात्र में यहां जरूर पहुंचते हैं। जयपुर में स्टेट बैंक के मैनेजर ज्ञानचंद कुमार उर्फ पिंटू सिन्हा, छपरा के मंडल कारा में जेल सुपरिटेंडेंट मनोज कुमार सिन्हा, रांची हाई कोर्ट में अधिवक्ता धर्मेंद्र कुमार मल्तियार, गया में दैनिक जागरण के वरिष्ठ पत्रकार कमल नयन, गोरखपुर में सिंचाई विभाग के रीजनल अकॉन्टेन्ट मृदुला सिन्हा, नवादा डीएम के स्टेनोग्राफर आनन्द किशोर आदि व्यस्तता के बावजूद नवरात्र में माता के दर्शन के लिए जरूर पहुंचते हैं। वे बताते हैं कि माता में इतनी शक्ति है कि भक्त खिंचे चले आते हैं।

कैसे पहुंचे रेवार
रेवार आढ़ा-शेखपुरा पथ पर स्थित है। यह नवादा जिला मुख्यालय से 37 किमी. दूर है। वहीं, शेखपुरा से इसकी दूरी महज 20 किमी. है। सड़क मार्ग से यहां आसानी से पहुंचा जा सकता है। नवादा से आढ़ा मोड़ होते हुए धमौल बाजार के बाद रेवार पहुंचा जा सकता है। इसके लिए निजी वाहन से लेकर यात्री बस से भी लोग यहां पहुंच सकते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें