पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना मॉकड्रिल:सदर अस्पताल सहित तीन जगह 75 लोगों पर हुआ वैक्सीनेशन का ड्राई रन

नवादा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक जगह ढाई घंटे में 25 हेल्थ वर्कर को लगे 20 फॉल्स टीके, जिलापदाधिकारी खुद भी रहे मौजूद
  • हेल्प डेस्क से लेकर टीकाकरण तक में लगा 9 मिनट का समय, पोलिंग बूथ की तरह दिखा नजारा, 5 लोगों पर एक सेंटर का दारोमदार

कोरोना को भगाने यानी एंटी कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारी जानने को लेकर शुक्रवार को जिले के 3 सेंटरों पर हुआ ड्राई रन सफल रहा। इस दौरान वैक्सीन लगाने का रिहर्सल किया गया। रिहर्सल के दौरान सारी प्रक्रिया उसी तरह पूरी की गई जैसे आने वाले समय में कोरोना के वास्तविक वैक्सीनेशन के दौरान करनी है। डमी वैक्सीनेशन के द्वारा ड्राई रन के तहत शुक्रवार काे नवादा सदरअस्पताल, शहर के डायट भवन व जिले के नरहट सीएचसी में ड्राई रन हुआ।

डमी वैक्सीनेशन का जायजा लेने के लिए खुद जिलाधिकारी यशपाल मीणा भी डायट भवन में मौजूद रहे। यहां वैक्सीनेशन ट्रायल की एक तरह से इस माॅक ड्रिल में सारी व्यवस्थाएं की गई थी। सेंटर के सबसे आगे हेल्पडेस्क बनाया गया था, इसके बाद वेटिंग रूम, रजिस्ट्रेशन काउंटर, टीकाकरण कच्छ और ऑब्जरवेशन रूम भी तैयार किया गया था। टीकाकरण के लिए चिह्नित स्वास्थ्य कर्मियों को पहले वेटिंग रूम में बैठाया गया। फिर सूची के अनुसार बुलाकर उनका रजिस्ट्रेशन किया गया और टीकाकरण के लिए अंदर भेजा गया। टीकाकरण के बाद जिन्हें टीका लगाया गया था उन्हें आधे घंटे के लिए ऑब्जरवेशन रूम रूम में बैठाया गया। सीएस विमल प्रसाद ने ड्राई रन को सफल बताया है।

कोल्ड प्वाइंट से वैक्सीनेशन बॉक्स में ट्रांसफर कर लाया गया वैक्सीन
ड्राई रन में 3 सेंटरों पर वैक्सीनेशन स्टाफ ने 75 हेल्थ वर्करों को डमी वैक्सीन की डोज देने की रिहर्सल की। शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय डायट में डीएम यशपाल मीणा और सिविल सर्जन विमल प्रसाद, टीकाकरण के नोडल अधिकारी डॉ अशोक कुमार, सदर अस्पताल में डीएस डॉक्टर सुधा कुमारी व नरहट में डॉ वीरेंद्र प्रसाद तथा पीएचसी प्रभारी की मौजूदगी में सुबह 11 बजे टीकाकरण शुरू किया गया। सबसे पहले कोल्ड प्वाइंट से डमी वैक्सीन की डोज कोल्ड वैक्सीनेशन बॉक्स में डालकर टीकाकरण रूम में लाया गया। फिर बारी-बारी से चिन्हित स्वास्थ्य कर्मियों का वेरीफिकेशन कर उन्हें टीका लगाया गया। इस दौरान लोगों से आधार कार्ड में मारे गए।
वेरीफिकेशन से वैक्सीनेशन तक में 9 से 10 मिनट का समय
प्रत्येक स्वास्थ्यकर्मी को टीका लगवाने में वेरिफिकेशन से लेकर वैक्सीनेशन तक में करीब 9 से 10 मिनट तक का समय लग रहा था। टीकाकरण के बाद टीका के साइड इफेक्ट जाने के लिए टीकाकरण कराने वालों को ऑब्जर्वेशन रूम में 30 मिनट के लिए बैठाया गया। डोज ले चुके व्यक्ति के साइड इफेक्ट आने की स्थिति में वैक्सीनेशन स्टाफ ने इलाज देने के बारे में मॉक ड्रिल करके बताया। ऑब्जर्वेशन रूम में मौजूद स्टाफ नर्स ने हेल्थ वर्कर को बताया कि यदि उन्हें किसी प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी परेशानी महसूस होती है तो वो फौरन दिए जा रहे नंबर पर कॉल करके सूचित करेंगे।

ऐसे हुआ टीकाकरण
डायट स्थित वैक्सीनेशन सेंटर में सबसे पहले एक स्वााास्थ्यकर्मी एंट्री गेट पर पहुंची। हेल्प डेस्क पर मौजूद स्टाफ ने लिस्ट में उनका नाम चेक किया। नाम से मिलान होने पर हैंडवाश एरिया में सेनिटाइज कराने के बाद उन्हें वेटिंग एरिया में बैठने काे कहा गया। यहां से उन्हें डिजिटल वेरिफिकेशन स्टॉल पर बुलाया गया जहां सॉफ्टवेयर पर आईडी व नाम चेक करने के बाद उन्हें वैक्सीनेशन रूम में भेजा गया। यहां पर दो मिनट की प्रक्रिया में दाहिने हाथ के बाजू की तरफ डमी वैक्सीन लगाकर ( सिर्फ निडल सटाया गया) । इसके बाद उन्हें 30 मिनट तक ऑब्जर्वेशन रूम में रुकने की बात कह भेज दिया गया। इस तरह एक हेल्थ वर्कर की वेरिफिकेशन से वैक्सीनेशन तक औसतन 9 से 10 मिनट का समय लगा।

कोल्ड वैक्सीनेशन बॉक्स में वैक्सीन होगी ट्रांसफर
वैक्सीनेशन केेेे नोडल अधिकारी डॉ अशोक कुमार ने बताया कि जिले में टीकाकरण के लिए फिलहाल सभी 14 प्रखंडोंंं में 14 सेंटर बनाए गए हैं। जिसमें 14 कोल्ड पाॅइंट से वैक्सीनेशन कराने की प्लानिंग है। वैक्सीन को दो से आठ डिग्री तापमान वाले कोल्ड वैक्सीनेशन कैरियर बॉक्स में ट्रांसफर की जाएगी। सदर अस्पताल में मुख्य वैक्सीन स्टोर बनाया गया है। यहां पर्याप्त मात्रा में आइस लाइन रेफ्रीजरेटर और डीप फ्रीजर आवंटित किए हैं।


आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser