पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ग्रामीणों का अनूठा आक्रोश:रजौली में 10 किमी पैदल चलकर पहुंचे वोट देने

नवादाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रामीणों ने वोट बहिष्कार की बजाय ईवीएम पर चोट कर अपने आक्रोश का इजहार किया

नवादा के रजौली और हिसुआ में अपनी मांगों को लेकर कई मतदान केन्द्रों पर ग्रामीणों ने वोट का बहिष्कार किया। लेकिन दूसरी तरफ रजौली और गोविंदपुर इलाके के ग्रामीणों ने वोट बहिष्कार की बजाय ईवीएम पर चोट कर अपने आक्रोश का इजहार किया। हालांकि वोटिंग प्रतिशत कम रहा। लेकिन यह बहिष्कार करनेवालों के लिए अच्छा संदेश है। रजौली के फुलवरिया जलाशय के उपरी भाग में बसे हरदिया पंचायत के पिछली और जमुंदाहा गांव का बूथ 290 को जलाशय के इस पार जोगियामारण पंचायत के सतगीर विधालय में कर दिया गया। लेकिन दूरी के कारण लोग नही आ सके। 12 बजे तक मात्र पांच वोट पड़े थे। जबकि यहां 721 वोट थे। इसमें महिलाओं की संख्या 357 एवं पुरुषों की संख्या 364 है।

तब अधिकारियों को इसकी सूचना दी गई। उसके बाद एक ट्रेक्टर भेजा गया। तब ग्रामीणों ने बूथ दूर होने और सुविधा नही होने को लेकर वोट बहिष्कार नही किया। ट्रेक्टर से ग्रामीण बूथ तक पहुंचे। इसके बाद 80 लोगों ने मतदान किया। ग्रामीणों ने कहा कि यह वोट उसी सिस्टम को बदलने के लिए है। इसलिए परेशानी के बावजूद मतदान किया। दूसरी तरफ, जंगली क्षेत्र बारा,मरमों, सिंगर एवं चिरैला के ग्रामीणों ने बताया कि उनलोगों को लाने के लिए कोई व्यवस्था नही की गई। फिर भी वे लोग 10 किमी पैदल चलकर हरदिया सेक्टर डी में वोटिंग किया। उनके गांव में कच्ची सड़क है, बेरोजगारी की समस्या है।जंगल से लकड़ी लाकर पहले लोग अपना जीवन यापन करते थे।लेकिन अब जीवन यापन करना भी मुश्किल हो गया है।सिर्फ हम लोग वोट देते हैं, लेकिन हमारे ऊपर कोई जनप्रतिनिधि ध्यान नहीं देते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें