पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2024 तक पूरा होगा मेट्रो का सपना:निर्माण पर 11165.96 करोड़ की राशि होगी खर्च, 32.497 किमी लंबी होगी

पटना14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मेट्रो को बिजली सप्लाई देने के लिए 222 करोड़ की लागत से दो जगह पर ग्रिड सब स्टेशन बनेगा। - Dainik Bhaskar
मेट्रो को बिजली सप्लाई देने के लिए 222 करोड़ की लागत से दो जगह पर ग्रिड सब स्टेशन बनेगा।
  • 17.933 किमी पहला कॉरिडोर, 14.45 किमी का होगा दूसरा कॉरिडोर

राज्य सरकार ने पटना मेट्रो का निर्माण कार्य 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा है। शहर के पूरब से पश्चिम तक 32.497 किमी लंबी मेट्रो के निर्माण पर 11165.96 करोड़ की राशि खर्च होगी। पहला कॉरिडोर पूरब से पश्चिम तक 17.933 किमी का होगा। यह दानापुर से बेली रोड, पटना जंक्शन होते मीठापुर तक जाएगा।

दूसरा कॉरिडोर उत्तर से दक्षिण तक 14.45 किमी का होगा। यह पटना जंक्शन से गांधी मैदान, पीएमसीएच, राजेंद्रनगर से होते न्यू आर्इएसबीटी तक जाएगा। न्यू आर्इएसबीटी के सामने मसौढ़ी-गया रोड के पूरब 71 एकड़ जमीन पर मैट्रो का डिपो बनेगा। इसके लिए पहाड़ी और रानीपुर मौजा की जमीन चिह्नित की गई है।

जिला प्रशासन ने जमीन के सामाजिक और आर्थिक मूल्यांकन का काम सरकार से मान्यता प्राप्त एजेंसी काे सौंपा है। एजेंसी से रिपोर्ट मिलने के बाद जमीन अधिग्रहण की अधिसूचना जारी हाेगी। अभी कोरिडोर वन और टू के एलाइनमेंट के लिए मिट्टी जांच चल रही है।

दो जगह बनेंगे ग्रिड सब स्टेशन
मेट्रो को बिजली सप्लाई देने के लिए 222 करोड़ की लागत से दो जगह पर ग्रिड सब स्टेशन बनेगा। इसकी क्षमता 132/33 होगी। इसमें मीठापुर और न्यू आईएसबीटी शामिल है। इन दोनों ग्रिड सब स्टेशन के लिए 42.5 करोड का बजट स्वीकृत है। लेकिन, वास्तविक खर्च 222 करोड़ होने के कारण 180 करोड़ की राशि राज्य सरकार को देनी है। पैसा स्वीकृत होने के बाद बिहार स्टेट पावर ट्रांसमिशन कंपनी कार्य शुरू करेगी। इसका निर्माण कार्य 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें