बिहार में 24 घंटे में 6393 नए केस:पटना से 2275 मामले, AIIMS में डॉक्टरों के साथ 72 पॉजिटिव; IGIMS डॉक्टर्स समेत 10 संक्रमित

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिहार में 24 घंटे में 6393 नए कोरोना मरीज सामने आए हैं। पटना से 2275 संक्रमित मिले हैं। पटना एम्स में गुरुवार को फिर कोरोना विस्फोट हुआ है। 24 घंटे में 72 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जिसमें डॉक्टरों के साथ हेल्थ वर्कर भी शामिल हैं। 24 घंटे में 2 लोगों की मौत हुई है। अब एक्टिव मामलों की कुल संख्या 31374 हो गई है। पटना एम्स में 72 संक्रमित स्वास्थ्य कर्मियों में दो फेकेल्टी सहित 15 डॉक्टर शामिल हैं। इसमें 12 रेजीडेंट और एक इंटर्न और 37 नर्स भी हैं। IGIMS में एक फेकेल्टी, दो सीनियर रेजीडेंट, दो जूनियर रेजिडेंट और 5 नर्सिंग स्टाफ की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

बुधवार को 1,80,407 सैंपल की जांच में 6,413 नए मामले आए। यानी संक्रमण दर अब 3.55% हो गई है। या यह कहे कि हर 28वां सैंपल कोरोना पॉजिटिव आया है। ऐसे में कोरोना को लेकर आने वाले खतरे से सावधान रहना है। बक्सर के डुमरांव स्थित पशुपालन विद्यालय छात्रावास में 24 छात्र कोविड संक्रमित पाए गए हैं।

NMCH में बुजुर्ग 8 जनवरी को हुए थे भर्ती
नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में गुरुवार को पटना के रामकृष्णा नगर के रहने वाले 80 साल के संक्रमित गनौरी प्रसाद यादव की मौत हो गई। वह 8 जनवरी से कोरोना संक्रमण के बाद गंभीर हालत में NMCH में भर्ती कराए गए थे। पटना में गुरुवार को कुल 2611 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें 2514 कोरोना के नए केस हैं जबकि 97 फॉलोअप केस हैं। पटना जिले में कुल 2175 नए केस जुड़े हैं। इनमें 339 पटना के बाहर के रहने वाले हैं और पटना में जांच कराए हैं। बिहार विधानसभा के माननीय अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा और उनके पी.ए. भी हुए कोरोना पॉजिटिव, होम आइसोलेशन में गए। संपर्क में आए लोगों से की जांच कराने और लोगों से कोविड अनुकूल व्यवहार रखने की अपील की।

2802 हुए ठीक, फिर भी एक्टिव मामले 28,659
बुधवार को राज्य में 2802 संक्रमितों ने कोरोना को मात दी है। इसके बाद भी कुल एक्टिव मरीजों का डेटा तेजी से कम नहीं हो पाया है। इस समय एक्टिव मरीजों की संख्या 28,659 हो गई है। ट्रेंड बता रहा कि तीसरी लहर में गुरुवार को सक्रिय मरीजों की संख्या पहली लहर के पीक 32 हजार को पार कर जाएगी। पहली लहर में यह आंकड़ा 146 दिन में आया था, तीसरी लहर में इतने मरीजों की संख्या 20 दिन में ही पार कर जाएगी। यानी पहली लहर से 730% तेजी से कोरोना बढ़ रहा है। बिहार में रिकवरी रेट 94.65% पर पहुंच गई है।

जानिए 3 दिनों में मौत का आंकड़ा
3 दिनों में 16 मौत ने तीसरी लहर को गंभीर बना दिया है। अब तक लोग इसे हल्के में ले रहे थे और उन्हें लग रहा था कोरोना के नए वैरिएंट से खतरा नहीं है, लेकिन यह वायरस बुजुर्ग और बीमार लोगों की मौत का कारण बन रहा है। सोमवार को बिहार में कोरोना से 5 मौत हुई थी, जबकि मंगलवार को यह आंकड़ा 7 पहुंच गया था। बुधवार को 24 घंटे में 4 संक्रमितों की मौत हो गई। 3 दिनों में मरने वालों में 6 से लेकर 70 साल के लोग शामिल हैं। बुधवार को 14 साल की बच्ची की पटना एम्स में कोरोना से मौत हुई है। पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, पटना एम्स, आईजीआईएमएस में मौत का सिलसिला जारी है।

एक्टिव मामलों के टॉप 5 जिले

  • पटना - 13375
  • मुजफ्फरपुर - 1329
  • गया - 1164
  • समस्तीपुर - 853
  • बेगूसराय - 729

भागलपुर: लगातार तीसरे दिन कोरोना शतक के पार

भागलपुर में 121 कोरोना संक्रमित मिले। 46 पूरी तरह से ठीक भी हुए। यह लगातार तीसरा दिन है जब जिले में 100 से अधिक मरीज मिले हैं। संक्रमितों में महिला डॉक्टर, नर्स, कोर्ट कर्मी व बरारी थाने का दारोगा शामिल हैं। नारायणपुर के नगरपारा स्थित नवोदय विद्यालय में कोरोना जांच में 18 संक्रमित मिले हैं। नारायणपुर पीएचसी प्रभारी डॉक्टर विनोद कुमार ने बताया कि विद्यालय के शिक्षक, कर्मी व छात्र संक्रमित मिले हैं। नगरपारा गांव में 81 लोगों के जांच में एक युवक संक्रमित निकला है। कहलगांव में थानाघ्यक्ष समेत 45 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अनुमंडलीय अस्पताल के प्रभारी उपाधीक्षक डॉ. विवेकानंद दास ने बताया कि एनटीपीसी में 13 संक्रमित मिले हैं। बाकी मरीज अन्य जगहों के हैं।

होम आइसोलेशन में मरीज की हालत बिगड़ी तो विभाग हो जाएगा अलर्ट