सतर्क रहें:जिले में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 216 नए मामले मिले, 9 लोगों की मौत

हाजीपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोविड की दूसरी लहर में अबतक कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 2363 पहुंची

24 घंटे में कोविड संक्रमित से 9 लोगों की मौत हो गई है। बुधवार को 216 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 56 व्यक्तियों को कोरोना निगेटिव होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। दूसरे लहर में अबतक कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 2363 पहुंच गयी है। सभी नए प्रभावित व्यक्तियों का निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत इलाज प्रारंभ करने के साथ ही कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग एवं आवश्यकतानुसार कंटेनमेंट जोन के निर्धारण का कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है। ज्ञात हो कि जिले में जिस रफ्तार से कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है।

कंटेनमेंट जोन की संख्या भी उसी रफ्तार से बढ़ाई जा रही है। ऐसा पहली बार देखा जा रहा है जब माइक्रो कंटेनमेंट जोन की संख्या भी 290 पहुंच गया है। जहां बांस बल्ले से घेर कर जिला प्रशासन द्वारा पुलिस की प्रतिनियुक्ति कर दी गई है ताकि लोग कंटेनमेंट जोन से बाहर न निकल सके। वहीं, मृतक व्यक्ति राघोपुर रुस्तमपुर निवासी 60 वर्षीय निफिकिर पासवान व 55 वर्षीय शांति देवी की मौत पटना एनएमसीएच व दो लोगों की मौत महुआ डीसीएचसी एवं बाकी लोगों की मौत अन्य अस्पतालों में हुई है।

56 व्यक्तियों को कोरोना निगेटिव होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है

महुआ में कोरोना संक्रमण से 6 लोगों की मौत
महुआ। अनुमंडल अस्पताल में चल रहे कोविड सेंटर में 5 लोगों के इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं, एक व्यक्ति की निजी अस्पताल में मौत हो गई। महुआ में 1 दिन में सबसे ज्यादा 6 की मौत हुई है।
पुत्र के मौत के 5 दिन बाद मां ने भी कोरोना संक्रमण से तोड़ा दम: महुआ सिंह राय गांव में कोरोना संक्रमित पुत्र के मौत के 7 दिन के बाद कोरोना संक्रमित मां की भी मौत हो गई है। महुआ सिंह राय गांव निवासी हार्डवेयर व्यवसायी आनंद शर्मा की 23 अप्रैल को कोरोना संक्रमण के कारण पटना में मौत हो गई थी। जिसके बाद उसकी मां भी कोरोना संक्रमित हो गई जिसे इलाज के लिए महुआ अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां 5 दिन बाद इलाज के दौरान उसकी मां की भी मौत हो गई।

भारतीय स्टेट बैंक राजापाकर के शाखा प्रबंधक कोरोना संक्रमित हुए, बैंक में लटका ताला
राजापाकर स्थित भारतीय स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक पुंकेसर विजेता भी इसकी चपेट में आ गए हैं। नतीजतन शाखा में ताले लटक गए हैं। शाखा प्रबंधक ने कोरोना का जांच कराया था। पॉजिटिव आने के बाद इसकी सूचना बैंक तथा वरीय पदाधिकारी को दिया। बैंक में सूचना मिलते हैं कुछ देर के लिए बैंक कर्मियों के बीच अफरा-तफरी का माहौल हो गया। आनन-फानन में बैंक को सेनेटाइज कराया गया है। इसके पूर्व प्रखंड के रानीपोखर स्थित सेंट्रल बैंक के शाखा प्रबंधक एवं सहायक शाखा प्रबंधक भी कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। वहीं, पत्रकार, स्वास्थ्यकर्मी, शिक्षक, बैंककर्मी सहित सभी तबके के लोग कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं।

भगवानपुर में एक ही परिवार के पांच लोग पाॅजिटिव, मोहल्ले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया
भगवानपुर | थाना क्षेत्र के बराहरूप गांव में एक परिवार के पांच लोगों का रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव पाया गया है। सूचना मिलते ही बीडीओ अमरजीत कुमार एवं सीओ नंद किशोर प्रसाद निराला ने भगवानपुर पुलिस के साथ बराहरूप गांव पहुंच कोरोना पाॅजिटिव परिवार के घर को बांस बल्ला से घेर कर गांव को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया। वहीं, प्रखंड क्षेत्र में कोरोना का कहर लगातार बढ़ते जा रहा है। बुधवार को भी 150 लोगों का जांच किया गया जिसमें 22 लोगों का रिपोर्ट पाॅजिटिव पाया गया है। सभी पॉजिटिव को मेडिकल किट देकर होम क्वारेंटाइन कर दिया गया है। प्रखंड में कोरोना से अबतक आधा दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। अधिकारिक तौर पर तीन लोगों की कोरोना से मौत की पुष्टि की गई है।

खबरें और भी हैं...