पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • 2.18 Lakh Children Failed In One Or Two Subjects In Matriculation And Intermediate Passed With Grace

कंपार्टमेंटल परीक्षा कराना संभव नहीं:मैट्रिक और इंटर में एक या दो विषय में फेल 2.18 लाख बच्चे ग्रेस से पास

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिहार बाेर्ड ने पिछले साल की तरह इस साल भी दी राहत

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इस वर्ष हुई मैट्रिक व इंटर परीक्षा में एक या दो विषयों में फेल 2.18 लाख से ज्यादा परीक्षार्थियों को ग्रेस देकर पास कर दिया है। पिछले साल भी दोनों परीक्षाओं के कुल 2.14 लाख विद्यार्थी ग्रेस देकर पास कर दिए गए थे। 2020 के पहले तक ऐसे परीक्षार्थियों को कंपार्टमेंटल की परीक्षा देनी होती थी लेकिन इस बार भी बोर्ड प्रशासन ने कंपार्टमेंटल परीक्षा नहीं लेने का निर्णय लिया है। इस संबंध में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने बताया कि बिहार बोर्ड द्वारा इंटर एवं मैट्रिक की वार्षिक परीक्षा, 2021 का परीक्षाफल प्रकाशित किया जा चुका है।

कोविड-19 महामारी के कारण कंपार्टमेंटल परीक्षा कराना संभव नहीं लग रहा है। इसलिए छात्रहित में बिहार बोर्ड ने ऐसे छात्रों को अतिरिक्त ग्रेस अंक देकर पास करने का प्रस्ताव दिया था, जिसे शिक्षा विभाग ने मंजूर कर लिया है। इस प्रस्ताव की मंजूरी के बाद इंटर व मैट्रिक के 2,18,790 परीक्षार्थियों को बिना कंपार्टमेंटल की परीक्षा दिए ही उत्तीर्ण घोषित हो गए हैं।

इन विद्यार्थियों का रिजल्ट http://results.biharboardonline.com/ पर उपलब्ध है। कोरोना महामारी के कारण 2020 में भी एक या दो विषय में फेल परीक्षार्थियों को ग्रेस देकर पास किया गया था। पिछले साल इंटर में कुल 1,32,486 विद्यार्थी एक या दो विषय में फेल थे उनमें से 72,610 विद्यार्थी अतिरिक्त ग्रेस अंक पाकर पास हुए थे।

खबरें और भी हैं...