पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सतर्क रहें:24 घंटे में 360 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले, 9 की मौत, 4340 अब भी हैं एक्टिव

हाजीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना मरीजों की जांच करते स्वास्थ्यकर्मी। - Dainik Bhaskar
कोरोना मरीजों की जांच करते स्वास्थ्यकर्मी।
  • जिले में अप्रैल माह से अबतक 7 हजार से अधिक संक्रमित मरीज मिले, 2500 से अधिक स्वस्थ्य भी हुए

जिले में कोरोना का दूसरा लहर में कोहराम मचा रहा है। संक्रमण का लगातार विस्फोट होने से कोविड मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। संक्रमण भी रोज नए नए रिकार्ड बना रहें है। गुरुवार को 360 नए मरीज मिले हैं। विगत 24 घंटे में 9 लोगों के मरने की भी खबर है। हालांकि सिविल सर्जन ने एक ही मौत की पुष्टि की है। गुरुवार को कोरोना से मरने वाले दो लोग हाजीपुर नगर परिषद क्षेत्र के हैं, जबकि दो सदर व एक लालगंज, एक महुआ व एक जन्दाहा, एक वैशाली व एक भगवानपुर प्रखंड के रहने वाले हैं।

इन लोगों को विभिन्न जगहों पर निजी अस्पताल में इलाज चलने की बात सामने आयी है। यह सभी संक्रमित थे। उसके बाद इन्हें कोविड केयर सेंटर व अन्य निजी अस्पतालों में इलाज चल रहा था। जानकारी हो कि जिला में अप्रैल माह से अबतक 7 हजार से अधिक संक्रमित मरीज मिले है, जिसमें 2500 से अधिक लोग स्वस्थ्य हो चुके है। सरकारी आंकड़े के अनुसार 50 से अधिक की मौत हो चुकी है। संक्रमित व्यक्ति इलाज के दौरान घर या अन्य अस्पतालों में हुए मौत की आंकड़ा विभाग के पास नहीं है। हालांकि, संक्रमित से हुए मौत का आंकड़ा लगभग 400 से अधिक होने की संभावना है। सूत्रों की माने तो लॉकडाउन से पहले सिर्फ एक सप्ताह में 350 से अधिक लोग डेथ सर्टिफिकेट के लिए अप्लाई आवेदन किए है। जिसमें मौत का कारण लोग संक्रमित होने की जानकारी दिए है। लेकिन इस आकड़ा पर विभागीय स्पष्ट नहीं हो सका है।

सरकारी आंकड़े के अनुसार अबतक संक्रमण से 50 से अधिक की हो चुकी है मौत

चार हजार से अधिक मरीज हैं होम आइसोलेशन में
बीते दिन बुधवार को 207 नए संक्रमित मरीज मिले है। वहीं, 4 मई मंगलवार को 888, सोमवार 3 मई 677, रविवार 2 मई 844, 1 मई को 450 संक्रमित एक्टिव मरीज है। वहीं अभी तक जिला में कुल 4340 एक्टिव मरीज है, जिसमें 4 हजार से अधिक होम आइसोलेशन में है। वहीं, 90 संक्रमित विभिन्न कोविड केयर सेंटर व डीएससीएच में भर्ती है।

महुआ कोविड सेंटर में चार संक्रमित मरीजों की हुई मौत
महुआ अनुमंडल अस्पताल में बने कोविड सेंटर में पिछले 24 घंटे में 4 मरीजों की मौत हो गई। मौत से परिवार में कोहराम मच गया है। मिली जानकारी के अनुसार महुआ अनुमंडल अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए कोविड सेंटर बनाया गया है। पिछले 24 घंटे में इस कोविड सेंटर में 4 मरीजों की मौत हो गई। जिसमें वैशाली की कृष्णा देवी, कुम्हारकॉल के सुरेंद्र प्रसाद सिंह, राजापाकर के चंदेश्वर दास तथा सारण के कमलेश कुमार शामिल हैं।

राजापाकर के तीन केंद्रों पर लगा 137 टीका

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राजापाकर समेत चक सिकंदर एवं बैद्यनाथपुर स्वास्थ्य केंद्र में गुरुवार को कुल 137 लोगों का टीकाकरण हुआ है। टीकाकरण में आई कमी के बारे में पूछे जाने पर सीएचसी प्रभारी डॉ. राजेश कुमार ने बताया कि यहां वैक्सीन की कमी नहीं है। मुझे लगता है कि लॉकडाउन लग जाने तथा गाड़ी बंद हो जाने के कारण दूरदराज के लोग टीका लगवाने नहीं पहुंच रहे हैं, जिससे टीकाकरण की संख्या में कमी आई है। उन्होंने यह भी बताया कि अब आइसोलेशन केंद्र में मात्र 10 मरीज क्वारेंटाइन है सभी नॉर्मल है। जैसे-जैसे ठीक हो रहे हैं उन्हें डिस्चार्ज किया जा रहा है।

बिदुपुर में कोरोना संक्रमण से शिक्षक समेत 3 की मौत

प्रखंड क्षेत्र में तीन व्यक्ति का कोरोना संक्रमण से निधन हो गया है। प्रखंड के मथुरा गोखुला उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय के जिला परिषद से नियोजित गणित विषय के शिक्षक पंकज कुमार का इलाज के दौरान पटना स्थित निजी क्लिनिक में गुरुवार की सुबह हुई, मझौली, दिलावरपुर पूर्वी में एक एक व्यक्ति के मौत संक्रमण के चलते हो गई। वहीं, पूर्व विधायक भरत सिंह एवं उनके धर्मपत्नी के निधन हो जाने पर राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने संवेदना व्यक्त की है।

खबरें और भी हैं...