पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • 6% People Will Get Both Doses Of The Vaccine, Herd Immunity At 60%, It Will Take 2 Years At This Speed

वैक्सीन की कमी से भी पड़ रहा असर:पटना में 6% लोगों को ही वैक्सीन की दोनों डोज लगी, 60% पर हर्ड इम्युनिटी, इस रफ्तार से लगेंगे 2 साल

पटना2 महीने पहलेलेखक: राकेश रंजन
  • कॉपी लिंक
पाटलिपुत्रा स्पाेर्ट्स काॅम्प्लेक्स में 24 घंटे वैक्सीनेशन शुरू। - Dainik Bhaskar
पाटलिपुत्रा स्पाेर्ट्स काॅम्प्लेक्स में 24 घंटे वैक्सीनेशन शुरू।
  • पटना में आठ जून तक 1214661 लोगों को लगी वैक्सीन, इनमें 896897 लोगों ने ली है सिंगल डोज

पटना की आबादी 73 लाख है। 53 लाख से अधिक लाेग यहां 18 वर्ष के ऊपर के हैं। इनमें से आठ जून तक मात्र छह फीसदी यानी 3,17,764 लोगों को ही डबल डोज वैक्सीन लग पाई है। जबकि विशेषज्ञों के अनुसार हर्ड इम्युनिटी के लिए कम से 60 फीसदी लोगों का टीकाकरण आवश्यक है। ऐसे में अगर टीकाकरण का यही रफ्तार रही, तो हर्ड इम्युनिटी विकसित होने में कम से कम डेढ़ से दो साल लग जाएंगे।

पटना के वरीय फिजिशियन डाॅ. राजीव रंजन और डाॅ. दीवाकर तेजस्वी का कहना है कि राजधानी पटना में टीकाकरण की यह रफ्तार काफी धीमी है। चार महीने में मात्र छह फीसदी लोगाें को ही डबल डोज लगी है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि जब टीका के ऑप्शन बढ़ेंगे, तो इसकी रफ्तार बढ़ेगी, लेकिन फिर भी 60 फीसदी आबादी के टीकाकरण में एक साल तो लग ही जाएगा।

317764 लोग ले चुके हैं दोनों डोज : पटना में आठ जून तक कुल 1214661 लोगाें को वैक्सीन लगी है। इसमें से 896897 लोगों सिंगल डोज ही लगा है, जबकि 317764 लोगों को डबल डोज लगा है। यानी कुल आबादी का 22.9 फीसदी लोग वैक्सीन लिए हैं, जिसमें से 17 फीसदी ने सिंगल डोज, जबकि छह फीसदी ने डबल डोज लिया है। इसमें से 69182 हेल्थ वर्कर शामिल हैं, जिन्होंने टीके का पहला डोज लिया है। जबकि 48475 हेल्थ वर्कस ने टीके का दूसरा डोज लिया है। इसी प्रकार 71935 फ्रंट लाइनर्स ने पहला डोज, जबकि 37282 ने दूसरा डोज लिया है।

60% से ऊपर वैक्सीनेट हाेने पर ही हाेगी हर्ड इम्युनिटी : डाॅ. संजय

आईजीआईएमएस के कम्युनिटी मेडिसिन के हेड डाॅ. संजय कुमार ने कहा कि 60 प्रतिशत से ज्यादा की अाबादी काे अगर काेराेना वैक्सीन का दाेनाें डाेज लग जाता है ताे हर्ड इम्युनिटी पैदा हाे जाएगी। कितने दिन में इतनी आबादी काे वैक्सिनेट कर दिया जाएगा इसका टाइम फ्रेम बताना जल्दबाजी हाेगी। सरकार जितना जल्द हाे दाेनाें डाेज लगवा दे पर अभी ताे वैक्सीन की सही से उपलब्धता ही नहीं हाे रही है।

कम से कम 70% की आबादी काे वैक्सीनेट करना जरूरी : डाॅ. राय

एम्स के पल्माेनरी विभाग के हेड भारत सरकार के बिहार में काेराेना के क्लीनिकल एक्सपर्ट डाॅ. डीके राय का कहना है कि कम से कम 70 प्रतिशत की अाबादी काे अगर काेराेना वैक्सीन का दाेनाें डाेज लग जाए ताे हर्ड इम्युनिटी हाे जाएगा। सरकार 5 से छह माह में लाेगाें काे दाेनाें डाेज लगवा दे, पर समस्या यह अा रही है कि अभी वैक्सीन ही नहीं मिल रहा है। बच्चाें के लिए वैक्सीन अाया ही नहीं है। 18 प्लस से 44 तक काे वैक्सिनेट करने के लिए वैक्सीन जितना चाहिए नहीं है।