पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीन लेने के मामले में नंबर 1 बना दानापुर रेलवे:पूर्व मध्य रेलवे के 83 प्रतिशत अधिकारी और कर्मचारी ले चुके हैं वैक्सीन, अब ट्रेनों के ऑपरेटिंग सिस्टम पर नहीं पड़ेगा असर

पटना16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना की दूसरी लहर में पूर्व मध्य रेल अपने कई तेज-तर्रार कर्मचारियों को खो चुका है। कई अधिकारी और काफी सारे कर्मचारी इस जानलेवा वायरस के संक्रमण के शिकार हो गए थे, जिसका असर ट्रेनों के आपॅरेटिंग सिस्टम पर पड़ने लगा था। भविष्य में होने वाली परेशानियों से बचने के लिए पूर्व मध्य रेलवे ने तेजी से कोरोना से बचान के लिए वैक्सीन लगवाने का एक बड़ा ऑपरेशन शुरू किया। इस रेलवे जोन में मुख्यालय के अलावा 5 बड़े रेल डिवीजन, हरनौत का रेल कारखाना, निर्माण संगठन, पंडित दीनदयाल उपाध्याय का डिपो और समस्तीपुर का वर्कशॉप भी आता है। कुल मिलाकर 81 हजार 706 रेल कर्मचारी पूर्व मध्य रेलवे के तहत काम करते हैं। अधिकारी और कर्मचारी मिलाकर 13 जुलाई तक 67 हजार 094 लोगों ने कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन ले लिया है। 100 में 83 प्रतिशत के आंकड़े को पूर्व मध्य रेलवे ने पार कर लिया है।

CPRO राजेश कुमार के अनुसार इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि वैक्सीनेशन के मामले में इस जोन में दानापुर रेल डिवीजन नंबर 1 बन गया है। इस रेल डिवीजन में 14 हजार 640 लोग काम करते हैं और सभी रेल कर्मचारी पूरी तरह से वैक्सीनेटेड हो गए हैं। कोरोना से बचाव के वैक्सीन के दोनों डोज ले चुके हैं। CPRO के अनुसार हाजीपुर स्थित मुख्यालय में काम करने वाले 2306 अधिकारियों व कर्मचारियों में से 1642 रेलकर्मियों का वैक्सीनेशन हो चुका है।

समस्तीपुर रेल डिवीजन में 10425 रेलकर्मियों में से 7051, सोनपुर रेल डिवीजन में 12997 रेलकर्मियों में से 11648, पंडित दीनदयाल उपाध्याय मंडल में 14780 रेलकर्मियों में से 10149 और धनबाद रेल डिवीजन में काम करने वाले 22315 रेलकर्मियों में से 19117 को कोरोना से बचाव का वैक्सीन दिया जा चुका है। इसके अलावा हरनौत रेल कारखाना, निर्माण संगठन, प्लांट डिपो/पंडित दीनदयाल उपाध्याय डिवीजन और समस्तीपुर वर्कशॉप के कुल 3752 रेलकर्मियों में से 2843 को भी वैक्सीन की दोनों डोज दी जा चुकी है। वैक्सीनेशन की प्रक्रिया लगातार जारी है। जल्द ही सभी रेल कर्मियों को वैक्सीन उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि रेलकर्मी बिना किसी डर के अपनी ड्यूटी कर सकें।

खबरें और भी हैं...