तैयारी / घर लौटे प्रवासियों को कृषि विज्ञान केंद्र बनाएगा हुनरमंद

Agricultural science center will make migrants back home
X
Agricultural science center will make migrants back home

  • कृषि से जुड़े कई विषयों पर 560 प्रवासियों को केंद्र से मिलेगा प्रशिक्षण, प्रथम सत्र में 4 महीने चलेगा

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:05 AM IST

हाजीपुर. कोरोना के कारण लागू लॉकडाउन के बाद घर लौटे प्रवासियों को कृषि विज्ञान केंद्र प्रशिक्षण देकर हुनरमंद बनाया जाएगा। इसके लिए स्थानीय हरिहरपुर स्थित कृषि विज्ञान केंद्र ने प्रवासियों की काउंसिलिंग की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। केंद्र के संजीव कुमार ने बताया कि कृषि से जुड़े लगभग एक दर्जन विषयों पर जिले के 560 प्रवासियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रथम सत्र में 4 महीने में चरणबद्ध तरीके से प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित होगा। प्रशिक्षण कार्यक्रम का प्रथम सत्र अगले सप्ताह से गरीब कल्याण योजना से शुरू किया जाएगा।  

गृह प्रखंड में ही उपलब्ध होगा प्रशिक्षण 
रोजी-रोटी की तलाश में प्रवासियों की पलायन पर रोक लगाने एवं उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ करने के उद्देश्य से प्रवासियों को स्थानीय स्तर पर रोजगार मुहैया कराया जाएगा। केंद्र के वरीय वैज्ञानिक एवं प्रधान डॉक्टर नरेंद्र कुमार ने बताया कि समेकित कृषि प्रणाली, सब्जी उत्पादन, मशरूम उत्पादन, मधुमक्खी पालन, बकरी पालन आदि विषयों पर प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को केंद्र के विभिन्न विषयों के वैज्ञानिक डॉ. सुनीता कुमारी, स्वप्निल भारती, प्रेम प्रकाश गौतम, वर्षा कुमारी के नेतृत्व में प्रशिक्षण कार्य संचालित किया जाएगा।

केंद्र में ऐसे प्रवासियों की काउंसलिंग की जा रही है। प्रशिक्षु प्रवासियों को फोन पर विभिन्न विषयों की जानकारी देकर उन्हें स्वयं प्रशिक्षण का विषय चुनने के लिए प्रेरित किया जाता है। प्रवासी अपने गांव की भौगोलिक स्थिति के अनुरूप विषय चयन कर प्रशिक्षण निःशुल्क प्राप्त कर सकते है। उन्होंने बताया कि प्रवासियों को आने जाने में किसी प्रकार परेशानी नही हो इसके लिए उन्हें गृह प्रखंड में प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जाएगा। जिससे वे अपने अपने घर के नजदीक ही प्रशिक्षण प्राप्त कर रोजगार शुरू कर सकते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना