पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अफरा-तफरी:लॉकडाउन की घोषणा होते ही, ढाई घंटे में बिक गया 4 करोड़ का आटा व चावल

पटना13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बाजार की ओर दौड़े लोग, अशोक राजपाथ पर लगा जाम - Dainik Bhaskar
बाजार की ओर दौड़े लोग, अशोक राजपाथ पर लगा जाम
  • शाम 4 बजे तक ही खरीदारी की इजाजत से मची अफरा-तफरी, खाद्य तेल व मसालों की बिक्री 95 लाख तक पहुंची

राज्य में लॉकडाउन की घोषणा होते ही मंगलवार की दोपहर अचानक किराना दुकानों में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। राजधानी के विभिन्न इलाकों में स्थित किराना दुकानों में शाम 4 बजे तक खरीदारी को लेकर अफरा-तफरी मची रही। लोगों ने आम दिनों की तुलना में दोगुना आटा और चावल खरीद लिया। नतीजा, ढाई घंटे में ही 4 करोड़ का आटा और चावल बिक गया। अन्य दिनों में आटा और चावल का कारोबार 2 करोड़ तक का होता था। वहीं खाद्य तेल और मसालों का कारोबार भी 90 लाख तक पहुंच गया।

यह आम दिनाें में 60 से 65 लाख के बीच रहता था। बेली रोड स्थित ऑल इन वन जनरल स्टोर के ऑनर ललन केसरी ने बताया कि आटा और चावल के अलावा लोगों ने ब्रेड, बिस्कुट, मैगी, मसालों की भी खूब खरीदारी की। कई दुकानों में शाम 4 बजे तक ब्रेड, बिस्कुट सहित अन्य खाद्य सामग्री का स्टॉक खत्म हो गया, वहीं भीड़ बढ़ने पर कुछ दुकानदारों ने अपनी दुकान को बंद कर लिया। हालांकि, बिग बाजार सहित अन्य सुपर मार्केट और मॉल में किराना सामान की कोई कमी नहीं थी।

कालाबाजारी की आशंका

लॉकडाउन की घोषणा की बाद खाद्य पदार्थों की कालाबाजारी की अाशंका प्रबल हाे गई है। खुदरा कारोबारी बंटी कुमार ने बताया कि पिछले वर्ष के लॉकडाउन की तरह आटा और चावल का स्टॉक प्रचुर मात्रा में उपलब्ध होने के बाद भी थोक व्यवसायी माल दबा सकते हैं। कृत्रिम किल्लत उत्पन्न कर अधिक दाम वसूल सकते हैं। एक दुकानदार ने नाम नहीं उजागर करने की शर्त पर बताया कि पटना सिटी, पटना, दानापुर सहित अन्य मंडियों में थोक व्यवसायियाें ने माल दबाना शुरू कर दिया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें