मोबाइल ऑन होते ही हुआ बड़ा खुलासा:बस के धक्के के बाद तड़प रही थी मां-बेटी, उसी बीच स्कूटी और मोबाइल हो गई थी चोरी

पटना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पटना में चोरी के आरोप में पकड़े गए तीनोंं आरोपी। - Dainik Bhaskar
पटना में चोरी के आरोप में पकड़े गए तीनोंं आरोपी।

पिछले महीने 11 दिसंबर को पटना के बेली रोड पर जू के पास एक बड़ा रोड एक्सीडेंट हुआ था। इलेक्ट्रिक बस ने एक स्कूटी में जोरदार धक्का मार दिया था। स्कूटी पर 41 साल की दीपशिखा अपनी 16 साल की बेटी चित्रा रंजन के साथ थीं। एक्सीडेंट के बाद दोनों मां-बेटी रोड साइड गंभीर हालत में पड़ी हुई थीं। इनकी मदद के लिए उस वक्त कई लोग मौके पर पहुंचे। हालांकि, इलाज के दौरान मां-बेटी की मौत हो गई थी। उस दिन इस बड़ी घटना के बीच एक्सीडेंट वाली जगह से महिला की स्कूटी और मोबाइल चोरी कर ली गई थी। महिला के पति के बयान पर शास्त्री नगर थाना की पुलिस ने FIR दर्ज किया था। इस बड़ी घटना के करीब 1 महीने बीत जाने के बाद एक बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल, महिला के मोबाइल नंबर को पुलिस ने ट्रैकिंग पर डाल रखा था। तब से मोबाइल नंबर लगातार स्विच ऑफ मिल रहा था।

अचानक से एक बार मोबाइल नंबर ऑन हुआ। जिसके बाद उसका लोकेशन पटना जिले में ही बिहटा मिला। इसके बाद थानेदार रामशंकर सिंह की टीम ने पुलिस ने तेजी से कार्रवाई करते हुए बिहटा में छापेमारी की। वहां से गोलू नाम के लड़के को पकड़ा। इसके पास से ही महिला का मोबाइल बरामद हुआ। मगर, इसके पास स्कूटी नहीं थी। तब इससे पूछताछ की गई। फिर इसने आरा के रहने वाले अपने दो दोस्तों विक्की और रवि के बारे में बताया। इसके बाद गोलू से ही कॉल करवा कर पुलिस टीम ने दोनों को बिहटा बुलाया। जब ये दोनों आये तो महिला की स्कूटी इनके पास थी। इसके बाद तीनों को पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया।

घटनास्थल से चोरी की गई स्कूटी।
घटनास्थल से चोरी की गई स्कूटी।

थानेदार के अनुसार जिस बस से स्कूटी में धक्का मारा गया था, उसी बस में ये तीनों सवार थे। एक्सीडेंट के बाद मदद करने के बहाने तीनों बस से उतरे थे। घायलों के पास उनकी मदद करने के लिए जाने की जगह ये तीनों रोड पर गिरे मोबाइल और स्कूटी को उठाया, फिर चुपचाप वहां से फरार होकर बिहटा आ गए। मोबाइल को गोलू ने अपने पास रख लिया। जबकि, स्कूटी को दोनों दोस्त आरा लेकर चले गए थे।

खबरें और भी हैं...