शिकंजे में आतंकी:दिल्ली में पकड़े गए पाकिस्तान के अशरफ से पूछताछ करेगी बिहार एटीएस

पटना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दिल्ली पहुंची एटीएस की टीम, बिहार कनेक्शन को लेकर होगी पूछताछ।- प्रतीकात्मक इमेज। - Dainik Bhaskar
दिल्ली पहुंची एटीएस की टीम, बिहार कनेक्शन को लेकर होगी पूछताछ।- प्रतीकात्मक इमेज।

दिल्ली में गिरफ्तार पाकिस्तानी आतंकी मोहम्मद अशरफ उर्फ अली से पूछताछ के लिए बिहार एटीएस की टीम दिल्ली पहुंच गई है। बिहार एटीएस की टीम मो.अशरफ से उसके बिहार कनेक्शन के बाबत पूछताछ करेगी। मोहम्मद अशरफ के बिहार कनेक्शन की बात सामने आई है। कहा जा रहा है कि किशनगंज से उसने अपना पहचान पत्र बनवाया था।

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने दिल्ली के लक्ष्मीनगर इलाके से मो. अशरफ उर्फ अली को 11 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था। खासबात यह है कि अशरफ के पास से कई फर्जी दस्तावेज और आईडी बरामद किए गए हैं जिनमें से एक आईडी बिहार के होने की बात सामने आई है।

कहा जा रहा है कि वह आईडी उसने किशनगंज से बनवाए थे। उसके आधार पर कई और दस्तावेज हासिल किए थे। सूत्रों के अनुसार बिहार एटीएस मो.अशरफ से उसकी गतिविधियों और बिहार नेटवर्क के बाबत पूछताछ करेगी।

नेपाल के रास्ते आया, 15 साल से रह रहा था यहां
मो. अशरफ के पास से दिल्ली पुलिस ने एक एके-47, मैग्जीन, 60 राउंड गोली, 1 ग्रेनेड, 2 अत्याधुनिक पिस्टल और 50 राउंड गोलियां बरामद की थी। अशरफ पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के नरवाल का रहने वाला है। वह नेपाल के रास्ते भारत आया था और करीब करीब 15 वर्षों से यहीं रह रहा था। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई उसकी हैंडलिंग कर रही थी।

अशरफ दिल्ली के शास्त्रीनगर में अली मोहम्मद नूरी के नाम से रह रहा था। जाली दस्तावेज की मदद से उसने भारत में अपना पहचान पत्र भी बनवा लिया था। अशरफ भारत में स्लीपर सेल की तरह रह रहा था। जम्मू-कश्मीर में कई आतंकी वारदातों में भी वह फैसिलिटेटर की भूमिका निभा चुका था। बताया जा रहा है कि मोहम्मद अशरफ को नेपाल के रास्ते भारत लाया गया था और वह अजमेर, गाजियाबाद, दिल्ली और जम्मू में रह चुका है।

खबरें और भी हैं...