पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar Government Did Preliminary Assessment Of Flood Damage; So Far, The Loss Of Life And Property Of 3764 Crores, Agriculture And Farming Of 661 Crores Has Been Ruined.

केंद्रीय टीम ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का किया एरियल सर्वे:बिहार सरकार ने बाढ़ से क्षति का किया प्रारंभिक आकलन; अब तक 3764 करोड़ के जान-माल का नुकसान, 661 करोड़ की खेती चौपट

पटना20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दरभंगा में स्थानीय अधिकारियाें के साथ बैठक करती केंद्रीय टीम। - Dainik Bhaskar
दरभंगा में स्थानीय अधिकारियाें के साथ बैठक करती केंद्रीय टीम।
  • केंद्रीय टीम ने उत्तर बिहार के बाढ़ प्रभावित इलाकों का किया एरियल सर्वे, दरभंगा के प्रभावित इलाकों का किया स्थल निरीक्षण

बिहार सरकार ने प्रदेश में बाढ़ से अब तक हुई क्षति का प्रारंभिक आकलन कर लिया है। सोमवार को बिहार पहुंची केन्द्रीय टीम के समक्ष बिहार सरकार ने अब तक 3764 करोड़ रुपये के जान-माल के नुकसान का ब्योरा बताया और करीब एक घंटे तक विस्तार से प्रजेंटेशन दिखाया।

जल संसाधन विभाग ने बताया कि सबसे अधिक 1470 करोड़ का नुकसान उनके विभाग से जुड़ा है जबकि कृषि विभाग के मुताबिक राज्य में 661 करोड़ की खेती चौपट हो गई है। आपदा प्रबंधन विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने कहा कि हालांकि यह प्रारंभिक आकलन है।

अभी बाढ़ से कई जिले प्रभावित हैं। आगे आवश्यकता के अनुसार इसे बढ़ाया भी जा सकता है। इसके पहले केंद्रीय गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव राकेश कुमार सिंह के नेतृत्व में केंद्रीय टीम पटना पहुंची। टीम दो दिनों तक बिहार में रहकर बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन करेगी। बिहार मे अभी 13 जिले की 15 लाख आबादी बाढ़ की चपेट में हैं। केंद्रीय टीम के साथ मुख्य सचिवालय स्थित सभागार में हुई बैठक में क्षति का ब्योरा पेश किया गया।

सबसे अधिक 1470 करोड़ का नुकसान जल संसाधन विभाग काे
करीब घंटेभर की बैठक के बाद केंद्रीय टीम एरियल सर्वे के लिए बाढ़ ग्रस्त इलाकों के लिए रवाना हो गई। हेलीकाप्टर से उत्तर बिहार के कई इलाकों का एरियल सर्वे करने के बाद टीम ने कुशेश्वरस्थान व दरभंगा जिले के बाढ़ प्रभावित इलाकों का स्थल निरीक्षण भी किया।

इस मौके पर आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से बाढ़ से हुए नुकसान पर एक समेकित प्रेजेंटेशन भी दिखाया गया। दरभंगा में दरभंगा, समस्तीपुर व मुजफ्फरपुर के अधिकारियों के साथ बाढ़ से हुए नुकसान पर बैठक हुई। टीम रात दरभंगा में रुकी और मंगलवार को दरभंगा से ही भागलपुर जाएगी। वहां केंद्रीय टीम भागलपुर व नवगछिया में बाढ़ से हुए नुकसान का हवाई सर्वे करेगी। इसके बाद केंद्रीय टीम पटना लौट आएगी।

बाढ़ से 13 जिलाें की 15 लाख आबादी प्रभावित
बाढ़ के कारण सूबे के 13 जिले प्रभावित हैं। इन जिलों के 73 प्रखंडों की 359 पंचायतों के 14.99 लाख लोग प्रभावित हैं। अब तक 53 लोगों की मौत हुई है। वैशाली, सारण, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, खगड़िया, सहरसा, समस्तीपुर, सीतामढ़ी, भागलपुर, कटिहार, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण और मधेपुरा जिले के 1,244 गांव आंशिक अथवा पूर्ण रूप से प्रभावित हैं।

केंद्र से बाढ़ क्षति के लिए मांगी जाने वाली सहायता राशि

  • 1469.99 करोड़ रु. जल संसाधन विभाग
  • 1168.59 करोड़ रु. आपदा प्रबंधन विभाग
  • 661.16 करोड़ रु. कृषि विभाग
  • 234.70 करोड़ रु. ग्रामीण कार्य विभाग
  • 203.14 करोड़ रु. पथ निर्माण विभाग
  • 14.37 करोड़ रु. ऊर्जा विभाग
  • 7.86 करोड़ रु. पीएचईडी विभाग
  • 4.04 करोड़ रु. पशु एवं मत्स्य संसाधन
खबरें और भी हैं...