चिराग ने सीएम नीतीश पर फिर से लगाया आरोप:राजनैतिक द्वेष की वजह से अब तक नहीं हुआ जमुई मेडिकल कॉलेज का टेंडर, लिखा लेटर

पटना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चिराग पासवान। - Dainik Bhaskar
चिराग पासवान।

लोकजनशक्ति पार्टी के मुखिया व जमुई सांसद चिराग पासवान ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गंभीर आरोप लगाया है। इस बार मामला जमुई में बनने वाले मेडिकल कॉलेज को लेकर है। वहां मेडिकल कॉलेज बनाने के प्रस्ताव को बहुत पहले ही मंजूर किया जा चुका है। 2014-19 के कार्यकाल के दौरान ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कि सरकार ने इस प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दी थी। लेकिन,अब तक राज्य सरकार की तरफ से इसकी प्रक्रिया शुरू नहीं हुई।

आज तक जमुई के मेडिकल कॉलेज के लिए राज्य सरकार की तरफ से टेंडर जारी करने की प्रक्रिया नहीं हुई। जब तक सरकार टेंडर नहीं निकालेगी, तब तक काम नहीं शुरू होगा। इसी मुद्दे पर चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार को फिर से घेरा है। इन पर राजनैतिक द्वेष का गंभीर आरोप लगाया है। शनिवार को मुख्यमंत्री के नाम चिराग ने एक लेटर लिखा है। इसमें उन्होंने ने तीन कारण सीधे तौर पर लिख डाले, जिसकी वजह से जमुई में मेडिकल कॉलेज के निर्माण का काम अटका पड़ा है।

सीएम नीतीश को दिया गया लेटर।
सीएम नीतीश को दिया गया लेटर।

जमुई सांसद ने अपने लेटर के जरिए सरकार और उसके काम-काज के तरीकों पर सवाल उठाए। साथ ही तीन कारण भी बताए। चिराग के अनुसार पहला कारण है कि बिहार सरकार मेडिकल कॉलेज के लिए टेंडर जारी करने में असमर्थ है। दूसरा कारण राज्य में विकास को लेकर सरकार का रवैया उदासीन दिख रहा है। जबकि, तीसरा कारण यह हो सकता है कि मेरा संसदीय क्षेत्र नक्सल प्रभावित है। इस वजह से जमुई को विकास के लाभ से वंचित रखने की साजिश रची जा रही हो।

राजनैतिक द्वेष की वजह से इन कारणों से इनकार नहीं किया जा सकता है। जबकि, जमुई की जनता को मेडिकल कॉलेज दिलाने के लिए केंद्र सरकार के सामने कड़ी मेहनत करनी पड़ी थी। टेंडर जल्द से जल्द जारी करने को लेकर पटना हाइकोर्ट की तरफ से भी कुछ दिनों पहले ही एक निर्देश राज्य सरकार को दिया गया था। इसके बाद भी टेंडर जारी करने की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई। चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री से बेवजह समय बर्बाद न करते हुए, इस काम को तेजी आगे बढ़वाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...