देश के सभी मुसलमानों का DNA टेस्ट कराओ, हिंदू निकलेंगे:BJP MLA ने कहा- 99% मुसलमान कन्वर्टेड; JDU के मंत्री ने भी कहा था हमारे पूर्वज हिंदू थे

पटना5 महीने पहलेलेखक: बृजम पांडेय

UP के वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने सोमवार को मुस्लिम धर्म छोड़कर सनातन धर्म अपना लिया। इसको लेकर पूरे देश में तरह-तरह की टिप्पणी आ रही है। हिंदूवादी नेता मुखर होकर हिंदुत्व की बात कर रहे हैं। मंगलवार को बिहार BJP के फायर ब्रांड नेता और विधायक हरिभूषण ठाकुर बचोल ने कहा, 'यूपी के वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी का धर्म परिवर्तन नहीं हुआ है, यह घर वापसी है।'

उन्होंने कहा, 'भारत में जितने भी मुसलमान हैं, वह कन्वर्टेड हैं। उनके पूर्वज हिंदू हैं और यदि विश्वास नहीं होता है तो सभी का DNA टेस्ट करा लिया जाए। अभी रिजवी साहब ने घर वापसी की है। उसके लिए हृदय से धन्यवाद। रिजवी साहब पढ़े लिखे आदमी हैं। वह सारे धर्मों का अध्ययन करके सनातन धर्म में आए हैं। सनातन धर्म एक ऐसा धर्म है, जिसमें सारे सृष्टि, जीव, जगत, पशु-पक्षी, पत्थर, वृक्ष सभी को पूजा जाता है। रिजवी साहब ने एक बेहतर कदम उठाया है। यह शुरुआत है।'

उनका कहना है कि देश के 99% मुसलमान कन्वर्टेड मुसलमान है। यह कभी हिंदू हुआ करते थे। बता दें, कुछ महीने पहले JDU नेता और बिहार सरकार के मंत्री जमा खान ने भी कहा था कि हमारे पूर्वज हिंदू थे और हम लोग कन्वर्टेड मुसलमान हैं।

UP के वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी, जिन्होंने सनातन धर्म को अपनाया है।
UP के वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी, जिन्होंने सनातन धर्म को अपनाया है।

JDU MLC ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

BJP विधायक के इस बयान के बाद JDU के अल्पसंख्यक नेता और MLC गुलाम गौस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है, 'कुछ लोगों को बोलने की आदत होती है। वह कुछ भी बोल देते हैं। हर धर्म की अपनी अहमियत है। कोई भी किसी धर्म को अपना सकता है। इसमें बंदिश नहीं होती है।'

हालांकि, गुलाम गौस ने वसीम रिजवी पर कुछ भी नहीं कहा, लेकिन इतना जरूर कहा कि कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपने निजी स्वार्थ के लिए धर्म बदल लेते हैं।