पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार में डॉक्टर बाबा रामदेव के खिलाफ सड़कों पर:आज सरकारी से लेकर प्राइवेट अस्पतालों में OPD हड़ताल, IMA को मिला डॉक्टरों के संघ का बड़ा समर्थन

पटना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
IMA में OPD बंद कर विरोध प्रदर्शन करते डॉक्टर। - Dainik Bhaskar
IMA में OPD बंद कर विरोध प्रदर्शन करते डॉक्टर।

बाबा रामदेव के खिलाफ आक्रोशित डॉक्टर आज हड़ताल पर रहेंगे। इमरजेंसी सेवा छोड़ सभी सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों की OPD पूरी तरह से ठप रखी जाएगी। IMA की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के आह्वान पर पूरे देश में OPD सेवा को ठप किया जाएगा। इस बंदी में IMA को डॉक्टरों के कई संघ ने समर्थन किया है।

बंदी की सफलता को लेकर गुरुवार को डॉक्टरों के अलग-अलग संगठनों ने बैठक की है, जिसमें OPD को सुबह साढ़े 8 बजे से लेकर दोपहर साढ़े 12 बजे तक बंद रखने का निर्णय हुआ है।

IMA ने बैठक के बाद लिया फैसला

IMA मुख्यालय में सभी राज्य के अध्यक्ष एवं राज्य सचिवों की बैठक हुई है। बैठक में निर्णय लिया गया है कि बाबा रामदेव के अपमानजनक वक्तव्यों एवं चिकित्सकों के विरूद्ध हो रही हिंसा के विरोध (प्रोटेस्ट) में 18 जून 2021 शुक्रवार को सुबह 8.30 से दोपहर 12.30 बजे तक पूरे देश में सभी निजी एवं सरकारी चिकित्सीय संस्थानों में OPD सेवाएं बंद रहेंगी।

अस्पतालों के बाहर लगाया जाएगा पोस्टर

IMA का कहना है कि OPD सेवाएं बंद रखने के साथ अस्पताल पर पोस्टर लगाए जाएंगे। इस संबंध में एक सूचना सभी चिकित्सीय संस्थानों के मुख्य द्वार पर लगाए जाने की भी तैयारी की गई है। सरकारी अस्पतालों में इसकी जानकारी पहले ही दे दी गई थी।

कोविड काल में चिकित्सकों के विरूद्ध हुई हिंसा की घटनाओं को लेकर IMA आक्रोशित है। रामदेव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के साथ अब OPD बंद किया जा रहा है। IMA के सचिव डॉ. सुनील कुमार पहले ही बाबा रामदेव पर पटना में मुकदमा दर्ज करा चुके हैं।

बंद को सफल बनाने में जुटे डॉक्टर

IMA से जुड़े डॉक्टरों का कहना है कि बाबा रामदेव ने डॉक्टरों का उस वक्त मजाक उड़ाया है जब डॉक्टर अपनी जान पर खेल कर कोविड के संक्रमितों की जान बचाने में लगे थे। वैक्सीन से लेकर अन्य तरह से एलोपैथी का अपमान किया है। इसलिए IMA ने पूरे देश में 18 जून को ओपीडी बंद रखने का निर्णय लिया है।

IMA के ओपीडी बंदी के आह्वान पर भाषा के दोनों गुटों के साथ रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन, जूनियर डॉक्टर नेटवर्क के साथ लगभग सभी संगठनों ने IMA को समर्थन दिया है। डॉ सुनील कुमार का कहना है कि बंदी की सफलता को लेकर पूरी रणनीति बनाई गई है। इस पर काम शुरू हो गया है। लगभग 4 घंटे तक ओपीडी को बंद रखा जाएगा। कोरोना का समय है इस कारण से इमरजेंसी सेवाएं बाधित नहीं होंगी।

खबरें और भी हैं...