पटना DTO के एग्जीक्यूटिव असिस्टेंट ने दी जान:मेडिकल स्टूडेंट्स से कहता था- मेरी नहीं हुई तो जान दे दूंगा... वो दिल्ली चली गई तो खा लिया जहर

पटना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पटना के कदमकुआं थाना के तहत लोहानीपुर के काशीनाथ लेन स्थित घर में शैलव ने आत्महत्या की। - Dainik Bhaskar
पटना के कदमकुआं थाना के तहत लोहानीपुर के काशीनाथ लेन स्थित घर में शैलव ने आत्महत्या की।

तुम मेरी नहीं हुई तो जान दे दूंगा...। 25 साल का शैलव राज अकसर यह बात अपनी गर्लफ्रेंड से कहता था। उसने मंगलवार को यह घातक कदम उठा ही लिया। गर्लफ्रेंड ने उसकी बात नहीं मानी तो जहर खाकर अपनी जान दे दी। वह पटना के DTO ऑफिस में एग्जीक्यूटिव असिस्टेंट था। यह मामला कदमकुआं थाना के तहत लोहानीपुर के काशीनाथ लेन का है। शैलव के साथ उसकी मां और छोटा भाई रहता था। उसके पिता की बचपन में ही मौत हो गई थी।

बताया जाता है कि सुबह परिवार वालों की नजर कमरे में पड़े शैलव पर गई तो उसके मुंह से झाग निकल रहा था। परिजन उसे लेकर PMCH गए, जहां डॉक्टर ने उसकी मौत की पुष्टि कर दी। इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। परिवार वालों के अनुसार, सोमवार देर रात 2 बजे तक सबकुछ ठीक था। आशंका है कि उसके बाद ही उसने जहर खा लिया।

20 लाख रुपए दोगे तो करूंगी शादी

शैलव के घर के पास में ही उसके तीन मामा और उनका परिवार रहता है। भांजे के बारे में जानकारी मिलते ही पूरा परिवार घर पहुंचा। घर के अंदर का माहौल गम में बदल चुका था। चीख-पुकार मची थी। जवान बेटे की लाश के पास जाकर मां बार-बार कह रही थी, उठो... तुम्हारे चाय पीने का टाइम हो गया। मां की यह बात सुनकर सभी रोने लगे।

शैलव की मामी ने बताया कि वो एक मेडिकल छात्रा से प्यार करता था। वह पटना के हॉस्टल में रहती थी। जब पहला लॉकडाउन हुआ तब वो लड़की और उसकी मां घर में आकर दो महीने रही भी थी। शैलव उससे शादी करना चाहता था, लेकिन लड़की कहती थी 20 लाख रुपए दोगे तो शादी करूंगी। फिर वो पटना से दिल्ली चली गई। वो हमेशा टॉर्चर करती थी। इस कारण से लड़का डिप्रेशन में चला गया था।

मृत शैलव का पहचान पत्र।
मृत शैलव का पहचान पत्र।

बहुत टेंशन में रहने लगा था मेरा दोस्त

दोस्त सौरभ के अनुसार, लड़की बहुत परेशान करके रखी थी। पहले तो वो शैलव के साथ में रहती थी। पूरे लॉकडाउन के दौरान साथ में रही है। इसके बाद छोड़कर चली गई। अचानक से उसने सबकुछ खत्म कर लिया। उसके बाद से शैलव बहुत टेंशन में आ गया था। कई बार उसने लड़की से बात करने की कोशिश की, मगर वो लगातार इग्नोर करती रही। लड़की मेडिकल की स्टूडेंट है। वह छपरा की रहने वाली है। दूसरी तरफ, कदमकुआं थाना की पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। थानेदार विमलेंदु के अनुसार, लाश का पोस्टमार्टम करा दिया गया है। अभी तक इस मामले में कोई कंप्लेन दर्ज नहीं हुआ है।

खबरें और भी हैं...