पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना वैक्सीन लेने वालों में पटनाइट्स टॉप पर:पटना में अब तक 11,55,199 लोगों ने लिया टीका; 4,00,769 वैक्सीनेटेड लोगों के साथ दूसरे स्थान पर सारण

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना वैक्सीन लेती युवती। - Dainik Bhaskar
कोरोना वैक्सीन लेती युवती।

कोरोना के खिलाफ टीका का वार करने में पटना राज्य में सबसे आगे है। यहां लोगों की जागरुकता के कारण टीकाकरण की रफ्तार हर दिन तेजी से आगे बढ़ रही है। दूसरे स्थान पर सारण है, जो अन्य 36 जिलों से वैक्सीनेशन में आगे है। यहां 4,00,769 लोगों ने पहला और 82,135 लोगों ने दूसरा डोज लगवाया है। पटना DM डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने कहा है कि आने वाले दिनों में वैक्सीनेशन की रफ्तार और तेजी से आगे बढ़ेगी।

पटना में बढ़ रही टीकाकरण की रफ्तार

पटना जिला में टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाई जा रही है। अब तक 11,55,199 लोगों का टीकाकरण हुआ है। इसमें से 18 से 44 वर्ष वालों की संख्या 2,05,359 है, जबकि 45+ वाले 7,25,669 लोगों का टीकाकरण हुआ है। पहला डोज लेने वालों की कुल संख्या 8,45,805 है, जबकि 3,09,394 लोगों ने दूसरा डोज लिया है। अब तक पटना में हेल्थ केयर वर्कर में 117321 लोगों का तथा फ्रंटलाइन वर्कर के में 106850 लोगों का टीकाकरण हुआ है।

DM ने कहा- पहला स्थान बड़ी उपलब्धि

DM का कहना है कि टीकाकरण का ग्राफ दर्शाता है कि पटना के खाते में महत्वपूर्ण उपलब्धि है। टीकाकरण में पटना जिला का राज्य स्तर पर पहला स्थान कायम है। इस उपलब्धि को प्राप्त करने के लिए जिलाधिकारी द्वारा ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में संचालित टीकाकरण अभियान का नियमित समीक्षा व मॉनिटरिंग की गई। प्रतिदिन समीक्षा के दौरान कार्यों में प्रगति लाई जा रही है। टीकाकरण अभियान को गति देने के लिए रणनीति बनाकर काम किया जा रहा है। इसके तहत जिलाधिकारी द्वारा जिला,अनुमंडल, प्रखंड, पंचायत एवं वार्ड स्तर पर टास्क फोर्स का भी गठन किया गया है।

निरीक्षण के साथ वैक्सीनेशन में तेजी का निर्देश

जिलाधिकारी ने रविवार को टीपीएस कॉलेज और आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय में बनाए गए टीकाकरण केंद्रों का निरीक्षण। इस दौरान वहां वैक्सीनेशन के लिए आए लोगों से फीडबैक भी लिया। टीकाकरण के लिए उपस्थित लोगों ने जिला प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्था पर संतोष जताया और कहा कि समय को लेकर असुविधा है। DM ने टाइम मैनेजमेंट को भी जल्द सही कराने का निर्देश दिया है। कहा कि जिला के सभी टीका केंद्राें का जिम्मेदार अफसर अपने स्तर से निरीक्षण करें, जिससे इसमें तेजी लाई जा सके। कहीं से कोई बाधा नहीं आए और शिकायत पर तत्काल कार्रवाई की जा सके।

खबरें और भी हैं...