• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar News Update; Now Helmet Will Have To Be Taken With Two Wheeler, Action On Dealers Who Sell Vehicles By Breaking Rules

हेलमेट नहीं होने के कारण 2 साल में 872 मौतें:अब टू व्हीलर के साथ लेना होगा हेलमेट, नियम तोड़कर गाड़ी बेचने वाले डीलरों पर एक्शन

पटना14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।
  • बिना हेलमेट गाड़ी बेचने वालों पर कार्रवाई के लिए डीलर पाइंट पर रैंडम छापेमारी

दो साल में 872 लोगाें की सड़क दुर्घटना में जान चली गई है। यह मौत हेलमेट नहीं पहनने के कारण हुई हेड इंज्यूरी के कारण हुई है। 2019 में हेलमेट नहीं पहनने के कारण 525 और 2020 में 347 लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत हुई है। सड़क हादसे में हेलमेट नहीं होने के कारण हो रही मौत को लेकर अब परिवहन विभाग ने सख्ती दिखाई है। अब टू व्हीलर लेने के दौरान ही अच्छी क्वालिटी का हेलमेट लेने होगा। एजेंसियां इसमें मनमानी की तो उनका लाइसेंस कैंसिल किया जा सकता है। बिना हेलमेट के गाड़ी बेचने वालों पर सख्ती को लेकर डीलर प्वाइंट पर रैंडम छापेमारी की व्यवस्था बनाई जा रही है।

परिवहन विभाग ने जारी किया आदेश

परिवहन विभाग ने आदेश जारी किया है कि अब दोपहिया वाहन खरीदते समय ही डीलर प्वाइंट पर अच्छी गुणवता वाला हेलमेट लेना होगा। यह व्यवस्था सभी दोपहिया वाहन विक्रेता (डीलर) के लिए लागू की गई है। इस संबंध में गुरुवार को सभी जिला परिवहन पदाधिकारी को प्रशिक्षित भी किया गया है। परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने वाहन विक्रेता की दुकानों की औचक जांच के लिए सभी जिलों के जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया है। निर्देश का अनुपालन नहीं करने वाले संबंधित डीलर पर कार्रवाई की जाएगी।

हेलमेट नहीं पहनने वालों को बड़ा खतरा

परिवहन विभाग की मंत्री शीला कुमारी का कहना है कि अच्छी गुणवता के हेलमेट नहीं पहनने और बिना हेलमेट दोपहिया वाहन चलाने से सड़क दुर्घटना के बाद खतरा अधिक होता है। ऐसे मामलों में मृत्यु की संभावना बढ़ जाती है। वर्ष 2019 में हेलमेट नहीं पहनने के कारण 525 लोगों की मौत हुई थी वहीं वर्ष 2020 में जिन 347 लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत हुई थी वह बिना हेलमेट के थे। परिवहन सचिव ने कहा है कि वाहन खरीद के दौरान वाहन क्रेता को वाहन विक्रेता (डीलर) द्वारा अनिवार्य रुप से भारतीय मानक ब्यूरो के अनुरुप हेलमेट उपलब्ध कराने के लिए अपने क्षेत्राधिकार के अंतर्गत सभी डीलरों को निदेशित किया जाए।

आम लोगों को किया जाए जागरुक

परिवहन सचिव ने आम लोगों को हेलमेट को लेकर जागरुक करने का निर्देश दिया है। इसके लिए जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठकों में अनिवार्य रुप से जानकारी देने का निर्देश है। इसके लिए प्रचार-प्रसार का भी निर्देश दिया गया है। परिवहन सचिव ने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाय कि बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन नहीं बेचा जाएगा। परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने लोगों से अपील की है कि दोपहिया वाहन चलाते समय अच्छी गुणवता का हेलमेट पहनें। हेलमेट पुलिस के डर से नहीं बल्कि अपनी सुरक्षा के लिए पहनें।

वरहन खरीदते समय हेलमेट का नियम

परिवहन सचिव का कहना है कि केंद्रीय मोटरवाहन नियमावली, 1989 के नियम 138 के उपनियम 4 (एफ) के अंतर्गत दोपहिया वाहन की खरीद के समय दोपहिया वाहन विनिर्माता बीआईएस द्वारा भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम 1986 के अधीन निर्देशों के अनुरुप सुरक्षा हेड गेयर प्रदान करने का प्रावधान है। मोटरवाहन अधिनियम, 1988 की धारा 120 एवं बिहार मोटरवाहन नियमावली 1992 के नियम 196 में दोपहिया वाहन चालकों एवं उस पर सवारी करने वाले व्यक्ति को गुणवतापूर्ण हेलमेट धारण करना अनिवार्य है। इसका उल्लंघन करने वाले वाहन चालक पर 1000 रुपए जुर्माना का प्रावधान है।

खबरें और भी हैं...