• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar News; Youth Commits Suicide In Patna; If Debt And Family Discord Started Increasing, Then He Hanged His Life By Hanging

पटना में युवक ने की खुदकुशी:कोरोना के कारण ठप हो गया था कारोबार, कर्ज और पारिवारिक कलह बढ़ने लगा तो फंदे से झूलकर दी जान

बाढ़/ पटनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मृत व्यवसायी के गले में फंदे का निशान। - Dainik Bhaskar
मृत व्यवसायी के गले में फंदे का निशान।

पटना के बाढ़ में गल्ला व्यवसायी ने आत्महत्या कर ली। व्यवसाय में घाटा और पारिवारिक कलह से तंग आकर उसने ऐसा किया। घटना पंडारक थाना क्षेत्र के गोवासा-शेखपुरा गांव में की है। गुरुवार रात घर के सभी सदस्य खाना खाकर सो गए। व्यवसायी अपने कमरे में अकेला सोया था। शुक्रवार सुबह उसके कमरे का दरवाजा देर तक नहीं खुला तो घरवालों को संदेह हुआ। इसके बाद जब घरवालों ने खिड़की से झांका तो देखा व्यवसायी की लाश फंदे से लटक रही है।

घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गई। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को फंदे से उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस के अनुसार पारिवारिक कलह और कर्ज के कारण आत्महत्या की बात सामने आ रही है। घरवालों से पूछताछ की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा। मृतक की पहचान पंडारक थाना क्षेत्र के गोवासा-शेखपुरा गांव निवासी 35 वर्षीय युवक मंटू कुमार के रूप में हुई है। वह गल्ला कारोबारी था।

ग्रामीणों के अनुसार कोरोना काल में कारोबार ठप पड़ने से उसकी आर्थिक हालत काफी खराब हो गई। वह 10-12 लाख रुपए कर्ज के बोझ तले दबा हुआ था। पिछले कुछ दिनों से वह काफी गुमसुम भी रहता था। परिवारवालों कलह भी अक्सर होते रहता था। कर्जदार बार-बार तगादा करते थे। आशंका है कि इसी कारण उसने आत्महत्या की। वह अपने पीछे तीन छोटे-छोटे बच्चे और पत्नी को छोड़कर चला गया। कर बीती रात उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

खबरें और भी हैं...