मुजफ्फरपुर अंखफोड़वा कांड के पीड़ितों पर CM मेहरबान:आंख खोने वाले को विशेष सहायता देगी सरकार; नीतीश ने कहा- प्राइवेट अस्पताल ठीक ढंग से चलाए लोग

पटना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के साथ सीएम नीतीश कुमार। - Dainik Bhaskar
निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के साथ सीएम नीतीश कुमार।

बिहार सरकार मुजफ्फरपुर में जहरीली शराब पीने के बाद अपनी आंख गंवाए लोगों के लिए विशेष मदद करेगी। इस बात की घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को कर दी है। मुख्यमंत्री ने साफ कहा कि ऐसे लोग जो इस कांड में अंधे हो गए हैं। उनको राज्य सरकार की तरफ से विशेष सहायता दिया जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विकास भवन में स्वास्थ्य विभाग के कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का उद्घाटन किया।

उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री ने सेंटर का निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि स्वास्थ्य विभाग का यह देश में पहला कमांड एंड कंट्रोल सेंटर है। इसके माध्यम से सभी स्वास्थ्य केंद्रों की मॉनिटरिंग मेडिकल उपकरणों सहित डाटा की निगरानी और उसके विश्लेषण किए जाएंगे।

ओपीडी का भी किया निरीक्षण
पायलट प्रोजेक्ट के रूप में मुजफ्फरपुर और नालंदा में इसकी शुरुआत की गई है। मुख्यमंत्री ने कमांड एंड कंट्रोल सेंटर से जिला अस्पताल मुजफ्फरपुर के ओपीडी में डॉक्टर और मरीजों से बात भी की। वहां इलाज और सुविधाओं के संबंध में जानकारी ली। साथ ही नालंदा अस्पताल की ओपीडी का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2006 से स्वास्थ्य के क्षेत्र में कई काम किए गए हैं।

पहले लैंडलाइन टेलिफोन के माध्यम से मुख्यमंत्री सचिवालय और स्वास्थ्य विभाग के द्वारा अस्पतालों में चिकित्सकों से बात कर जानकारी ली जाती थी। खुशी की बात है कि आज कमांड एंड कंट्रोल सेंटर की शुरुआत की गई है। इस तकनीक के माध्यम से स्वास्थ्य क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों को भी प्रभावी ढंग से क्रियान्वित और नियंत्रण किया जा सकेगा।

निजी अस्पतालों पर भड़के सीएम
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने संबोधन में निजी अस्पतालों पर खूब भड़के। उन्होंने कहा कि लोग प्राइवेट अस्पताल में क्यों जाते हैं पता नहीं। सरकार ने सारे इंतजाम किए हुए हैं। आपके पास पैसा है और आप बहुत सुविधा चाहते हैं तो आप प्राइवेट हॉस्पिटल में जाएं। लेकिन जो मुजफ्फरपुर में हुआ और प्राइवेट अस्पताल में जो गड़बड़ी हुई है। उस पर एक्शन लिया जा रहा है।

इसी दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कृपा करके प्राइवेट हॉस्पिटल को लोग ठीक ढंग से चलाएं। साथ ही मुख्यमंत्री ने मुजफ्फरपुर में जहरीली शराब से आंखों खोए लोगों के लिए विशेष सहायता देने की बात कही।

एम्स को और भी जमीन मिलेगी
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह भी घोषणा किया कि पटना एम्स के परिसर को और विस्तारित किया जाएगा। उसके लिए राज्य सरकार जमीन देगी। इसके अलावा सीएम नीतीश कुमार ने पटना एम्स के बगल में परिचारी भवन बनाने की बात कही।

यह परिचारी भवन इसलिए होगा क्योंकि जो लोग अपने मरीज को लेकर पटना एम्स में दिखाने के लिए पटना आते हैं, उनके रहने और खाने पीने की व्यवस्था वहां की जाएगी। मुख्यमंत्री ने घोषणा कि पटना में शिशु रोग अति विशिष्ट अस्पताल निर्माण कराया जाएगा। इस अस्पताल के खुल जाने से शिशु रोगियों के लिए काफी बेहतर सुविधा होगी।