कोरोना / रिकवरी रेट के मामले में बिहार देश में चौथे स्थान पर, राज्य का रिकवरी रेट 77.5 फीसदी

Bihar ranks fourth in the country in recovery rate, state recovery rate 77.5 percent
X
Bihar ranks fourth in the country in recovery rate, state recovery rate 77.5 percent

  • राष्ट्रीय रेट 58.5 फीसदी, राज्य में संक्रमित लोगों की मृत्यु दर भी कम

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 06:03 AM IST

पटना. बिहार में जिस रफ्तार से कोरोना संक्रमण फैल रहा है, उससे कहीं अधिक रफ्तार से संक्रमित मरीज ठीक हो रहे हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण से रिकवरी दर 77.5 फीसदी है। जो राष्ट्रीय औसत 58.5 फीसदी से लगभग 20 फीसदी अधिक है। अगर पूरे देश में संक्रमितों के रिकवरी दर पर ध्यान दें तो बिहार चौथे स्थान पर है। राज्य से आगे केवल मेघालय, राजस्थान और त्रिपुरा ही है।

राज्य में कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में धीरे-धीरे बढ़ोतरी होते जा रही है। मई के प्रथम सप्ताह में यह 54 फीसदी तक पहुंच गया था, लेकिन प्रवासी मजदूरों की जैसे-जैसे यह संख्या बढ़ती गई वैसे-वैसे ही रिकवरी दर भी कम होकर 26 फीसदी के करीब पहुंच गया था। लेकिन एक बार फिर रिकवरी दर बढ़कर 77.5 फीसदी हो गया है। बिहार में कोरोना संक्रमित लोगों की मृत्यु दर 0.7 फीसदी है, जबकि मृत्यु का राष्ट्रीय औसत दर 3 फीसदी है।
धीरे-धीरे बढ़ती गई राज्य में रिकवरी दर
राज्य में रिकवरी दर में धीरे-धीरे बढ़ोतरी हो रही है। जून महीने के इस सप्ताह की बात करें तो 21 जून को यह दर 74 फीसदी थी। 26 जून को बढ़कर 77 फीसदी और 27 को यह आंकड़ा 78 फीसदी पर पहुंचा। जबकि 28 जून को बढकर 78.5 फीसदी और 29 जून को इसमें थोड़ी कमी आई।  राज्य के कुल 9506 में से 7374 कोरोना संक्रमण को पराजित करने में सफल रहे हैं। राज्य में अभी 2069 ही एक्टिव मरीज है।
जांच की संख्या में भी बढ़ोतरी
शुरुआत में बिहार में सौ-दो सौ कोरोना सैंपल की जांच हो रही थी। लेकिन धीरे-धीरे जांच की संख्या भी बढ़ने लगी।अब प्रतिदिन 8 हजार से अधिक कोरोना सैंपल की जांच होने लगी है। लेकिन खुशी की बात यह है कि जांच की तुलना में पॉजिटिव मरीज कम मिल रहे हैं।

संक्रमण दर में लगातार कमी
स्वास्थ्य सचिव लोकेश कुमार ने बताया 31 मई को 2353 सैंपल्स की जांच में 180 मामले पॉजिटिव आए थे और संक्रमण की दर 7.46 फीसदी थी, जबकि आज संक्रमण की दर घटकर 3.46 फीसदी हो गई है। उन्होंने कहा कि बिहार में अब तक 2 लाख 5 हजार 832 सैंपल्स की जांच की गई है, जिसमें से अभी तक 9117 मामले पॉजिटिव मिले हैं, जो कि 4.42 फीसदी है।

मुझमें कोरोना लक्षण नहीं, जरूरत हुई तो जांच भी करा लूंगा: डॉ. प्रेम

पिछड़ा व अति पिछड़ा कल्याण मंत्री विनोद सिंह के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनके संपर्क में आए कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि 10 दिन हो गए हैं, लेकिन मुझमें कोरोना का कोई लक्षण नहीं है। आवश्यकता हुई तो कोरोना टेस्ट भी करा लूंगा। 19 जून को भोजपुर में शहीद चंदन कुमार के गांव जगदीशपुर के ज्ञानपुरा में कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार मंत्री विनोद सिंह के साथ थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना