• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar Will Also Make Arrangements To Transport Vehicles Without NOC Across India, Apply At Dealer Point From Next Week

अधिसूचना जारी:पूरे भारत में बिना NOC गाड़ी ले जाने की व्यवस्था अब बिहार भी देगा, अगले हफ्ते से डीलर प्वाइंट पर आवेदन

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिस खर्च में 15 साल के लिए BR रजिस्ट्रेशन, उतना BH में 2 साल का लगेगा। - Dainik Bhaskar
जिस खर्च में 15 साल के लिए BR रजिस्ट्रेशन, उतना BH में 2 साल का लगेगा।

बिहार में रजिस्ट्रेशन कराने वाली गाड़ियां भी अब बिना NOC के किसी राज्य में जा सकेंगी। बिहार सरकार ने BH (भारत) सीरीज का रजिस्ट्रेशन जारी करने के नए प्रावधान को अधिसूचना के जरिए लागू कर दिया है। BR (बिहार) नंबर के मुकाबले BH सीरीज का रजिस्ट्रेशन करीब 7-8 गुणा महंगा होगा। बिहार का रजिस्ट्रेशन 15 साल के लिए जारी होता है, जबकि भारत वाले नंबर का रजिस्ट्रेशन 2 साल के लिए होगा।

कम अवधि के लिए वैधता के बावजूद भारत नंबर का रजिस्ट्रेशन शुल्क बिहार से ज्यादा है। राज्य में गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन पर 1 फीसदी रोड सेफ्टी टैक्स लिया जाता है। बीएच सीरीज के नंबर पर भी इसे लिया जाना है, हालांकि कुछ तकनीकी कारणों से इस 1 प्रतिशत पर मंथन चल रहा है। अगले हफ्ते से नई गाड़ियों के लिए इसका आवेदन लिया जाने लगेगा।

रेट और वैधता का हिसाब पहले समझें : डीजल-इलेक्ट्रिक वाहनों में बड़ा अंतर

भारत सीरीज नंबर लेने का तरीका
बीएच सीरीज का नंबर डीलर प्वाइंट से मिलेगा। इसके लिए डीलर प्वाइंट पर गाड़ी खरीदने से पहले आवेदन देना होगा। इस आवेदन को डीलर के पास से जिला परिवहन पदाधिकारी कार्यालय भेजा जाएगा। जिला परिवहन पदाधिकारी से अनुमति मिलने के बाद नंबर जारी कर गाड़ी दी जाएगी। ऐसे केंद्रीय कर्मचारी, जिनका बिहार से बाहर स्थानांतरण हो सकता है।

ऐसे कर्मी को कार्यालय से जारी आईकार्ड, आधार कार्ड देना होगा। वहीं, निजी क्षेत्र में कार्य करने वाले का कार्यालय चार राज्यों में होना अनिवार्य है। इनमें कार्य करने वाले कर्मी को वर्किंग प्रमाण पत्र देना है। इसके साथ ही राज्यों के कार्यालय का नाम, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल आदि की जानकारी देनी है। ताकि, सत्यापन हो सके।

पोर्टल पर अपडेट के लिए स्थानांतरण पर 30 दिनों में देनी होगी जानकारी
बीएच सीरीज का नंबर मिलने के बाद दूसरे जगह स्थानांतरण होने पर 30 दिनों के अंदर निबंधन प्राधिकार को प्रारूप-33 में निवास स्थान के संबंध में जानकारी देनी होगी, ताकि पोर्टल पर अपडेट हो सके।

1 सप्ताह के बाद रजिस्ट्रेशन होगा शुरू नई गाड़ियों के लिए ही मिलेगा यह नंबर
परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बुधवार को गाइडलाइन के साथ अधिसूचना जारी की। नई व्यवस्था नई गाड़ियों पर ही लागू होगी। परिवहन मुख्यालय के अधिकारियों के मुताबिक एक सप्ताह बाद बीएच सीरीज का नंबर जारी करने का कार्य शुरू होगा।

खबरें और भी हैं...