15वां वित्त आयोग:आपदा प्रबंधन के लिए बिहार को मिलेगी चार गुनी अधिक राशि, 10,432 करोड़ रुपए की अनुशंसा

पटना10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रावधानित राशि को आयोग ने दो हिस्सों में विभाजित किया है। - Dainik Bhaskar
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रावधानित राशि को आयोग ने दो हिस्सों में विभाजित किया है।

पूर्व उपमुख्यमंत्री व सांसद सुशील कुमार मोदी ने बताया कि 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा पर बिहार को आपदा प्रबंधन के लिए 14वें की तुलना में चार गुनी अधिक राशि मिलेगी। 14वें वित्त आयोग अनुशंसा पर बिहार को 2591 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया था जबकि 15वें की अनुशंसा पर बढ़कर यह राशि बढ़कर 10,432 करोड़ किया गया है।

उन्होंने बताया कि आयोग की अनुशंसा पर अगले पांच साल में बिहार को आपदा प्रबंधन के लिए केंद्र से 7,824 करोड़ रुपए प्राप्त होगा जबकि राज्यांश के तौर पर राज्य को 2,608 करोड़ रुपए खर्च करना होगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रावधानित राशि को आयोग ने दो हिस्सों में विभाजित किया है।

प्रावधान के अनुसार राज्य आपदा प्रतिक्रिया निधि (स्टेट डिजास्टर रिस्पांस फंड) के तहत 80 फीसदी जबकि राज्य आपदा प्रबंधन निधि (स्टेट डिजास्टर मिटिगेशन फंड) के तहत 20 फीसदी राशि खर्च की जाएगी। हालांकि राज्य को पहले की तरह ही 25 फीसदी राज्यांश का वहन करना होगा।

उन्होंने कहा कि एसडीआरएफ की 80 फीसदी राशि में से 40 फीसदी प्रतिक्रिया व राहत, 30 फीसदी बचाव एवं पुनर्संरचना तथा 10 फीसदी राशि तैयारी और क्षमता निर्माण पर खर्च की जाएगी। इसके अलावा राष्ट्रीय स्तर पर आपदा प्रबंधन के लिए 68,463 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इसमें से राज्यों को 500 करोड़ से ज्यादा की सहायता पर संबंधित राज्य को 25 फीसदी राज्यांश वहन करना होगा।

खबरें और भी हैं...