शास्त्रीनगर इलाके से गिरफ्तार / बाइकर्स गैंग का सरगना पटना लौटा तो लाॅकडाउन में फंसा, एसटीएफ ने पकड़ा

Biker gang leader returned to Patna, trapped in lockdown, STF caught
X
Biker gang leader returned to Patna, trapped in lockdown, STF caught

  • हत्या समेत आधा दर्जन संगीन मामलों में छह माह से थी तलाश

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:21 AM IST

पटना. लंबी लुकाछिपी के बाद आखिरकार बाइकर्स गैंग ‘किंग्स ऑफ पटना’ का सरगना राहुल राज उर्फ गोलू सिंह शनिवार को शास्त्रीनगर में एसटीएफ के हत्थे चढ़ गया। करीब छह महीने से उसकी तलाश की जा रही थी। राजधानी में उसकी माैजूदगी का लोकेशन मिलते ही एडीजी (ऑपरेशन) एसएम खोपड़े ने विशेष टीम को अलर्ट कर दिया। फिर शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र में राजवंशीनगर इलाके के पास एसटीएफ ने घेराबंदी करके उसे अपनी गिरफ्त में ले लिया।

पटना पुलिस की ‘मोस्ट वांटेड’ लिस्ट में शामिल गोलू हत्या समेत आधा दर्जन संगीन मामलों में आरोपी रहा है। पिछले वर्ष दशहरा के बाद विसर्जन के दाैरान हुए विवाद में विरोधी गुट के एक युवक अमन की हत्या करने के बाद से वह अंडरग्राउंड हो गया था। वह पाटलिपुत्र थाने के मैनपुरा इलाके का रहने वाला है। बहरहाल आगे की कार्रवाई के लिए एसटीएफ ने उसे पटना पुलिस (शास्त्रीनगर थाना) के हवाले कर दिया है।  
पहले गोवा फिर मुंबई में ठिकाना बनाया  
पिछले साल युवक की हत्या करने के बाद गोलू पटना से भाग कर गोवा गया। वहां तीन महीने तक रहने के बाद उसने मुंबई में ठिकाना बनाया। इसके बाद होली के माैके पर चोरी-छिपे पटना पहुंचा। फिर लाॅकडाउन के कारण यहीं फंस गया। इसकी भनक मिलते ही एसटीएफ उसके पीछे लग गई थी।  
जमीन कब्जा व जुलूस निकालने का लेता था ठेका
शहर के एक काॅलेज में स्नातक के छात्र से गैंगस्टर बने गोलू सिंह का आतंक खासकर पटना के पश्चिमी इलाके में रहा है। वह रंगदारी, जमीन पर अवैध कब्जा के साथ ही बाइकर्स का जुलूस निकालने के लिए ठेका लेता था।  राजीवनगर, श्रीकृष्णापुरी, हवाई अड्डा व शास्त्रीनगर में उसके खिलाफ कई मामले दर्ज हैं। राधेश्याम समेत उसके 2 गुर्गों को पहले ही एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था।
वर्चस्व जमाने को करता था खूनखराबा 
सरगना गोलू सिंह अपना वर्चस्व जमाने के लिए खूनखराबा करने से भी बाज नहीं आता था। इसी की एक कड़ी थी पिछले साल दशहरा के विसर्जन जुलूस के दाैरान हुए विवाद में युवक अमन की हत्या। दिन में हिंसक झगड़े को शांत करा दिया गया लेकिन रात में शास्त्रीनगर के मोहनपुर इलाके में दोनों गुटों का आमना-सामना होने पर हुई गोलियों की बाैछार का खूनी अंजाम सामने आया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना