जातीय जनगणना पर भाजपा की दो तरफा मोर्चाबंदी:CM को मंत्री नीरज का जवाब- जातीय जनगणना मुद्दा नहीं; RJD को सलाह- जदयू में विलय करें

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिहार में जातीय जनगणना को लेकर भाजपा सत्ता में साझीदार होने के बावजूद अलग-थलग पड़ गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी पार्टी जिस तरह से लगातार जातीय जनगणना कराने की मांग कर रही है। उससे भाजपा प्रदेश की राजनीति में असहज होती दिख रही है ।

भाजपा की इस असहजता को भांपते हुए राजद इस पर लगातार नीतीश कुमार के साथ खड़े होने की बात कर रही है । दो तरफा बयानबाजी से घिरी भाजपा अब इस मुद्दें पर दो तरफा मोर्चाबंदी में भी उतर गई है। नीतीश कुमार को जवाब देने उनके मंत्रिमंडल के भाजपाई सहयोगी उतर आए हैं तो राजद के लिए पार्टी ने प्रवक्ता नवल किशोर यादव को मैदान में उतार दिया है ।

CM को मंत्री नीरज का जवाब- जातीय जनगणना नहीं हमारा एजेंडा जनसंख्या नियंत्रण
जातीय जनगणना का मुद्दा बिहार में दोनों सत्ताधारी जदयू और भाजपा के बीच लगातार बयानबाजी का मुद्दा बनता जा रहा है । जदयू इस मामले में आक्रामक है तो भाजपा जदयू की आवाज को अनसुना करने में लगी है। अब इस मामले में लगभग 1 सप्ताह बाद भाजपा के नेता और नीतीश कैबिनेट के मंत्री नीरज बबलू का जवाब सामने आया है। वन एवं पर्यावरण मंत्री नीरज बबलू ने जातीय जनगणना से जुड़े सवाल पर आज जबाब दिया। नीरज बबलू ने कहा कि हम सरकार में भले ही जदयू के साथ हैं। लेकिन हमारा एजेंडा जनसंख्या नियंत्रण है ना कि जातीय जनगणना।

भाजपा प्रवक्ता बोले- राजद को इतनी चिंता तो जदयू में कर लें विलय
भाजपा की तरफ से शुक्रवार को बड़ा जबाब राजद को भी मिला। भाजपा के प्रवक्ता नवल किशोर यादव ने कहा कि राजद को अगर नीतीश कुमार और जातीय जनगणना की इतनी चिंता है तो उसे पार्टी का विलय जदयू में कर लेना चाहिए । नवल किशोर यादव ने ये बयान राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह और राजद के ही नेता उदय नारायण चौधरी के बयान के जवाब में दिया है। असल में गुरुवार को ही जगदानंद सिंह ने जातीय जनगणना के मुद्दे पर नीतीश कुमार के साथ खड़े होने की बात कही थी।

उन्होंने कहा था कि राजद राज्य हित के मसले पर हमेशा जेडीयू के साथ खड़ी रहेगी। उन्होंने कहा था कि जेडीयू या नीतीश कुमार से आरजेडी को उस वक्त कोई परहेज नहीं होगा, जब मसला बिहार और बिहार के हित के लिए होगा। आज राजद नेता उदय नारायण चौधरी ने भी इसी तरह का बयान दिया है उन्होंने कहा है कि जातीय जनगणना के मुद्दे को लेकर अगर नीतीश कुमार की सरकार खतरे में होगी तो राजद उनका साथ देगी।

खबरें और भी हैं...