पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • CBSE Board 10th Result In 1 2 Days; For 12th Result, Schools Will Have To Do Marks Moderation By July 22

स्कूलों की लापरवाही से CBSE बोर्ड का रिजल्ट रुका:CBSE बोर्ड के 10वीं का रिजल्ट 1-2 दिन में; 12वीं के रिजल्ट के लिए स्कूलों को 22 जुलाई तक करना होगा मार्क्स मॉडरेशन, लेट हुआ तो स्कूलों पर होगी कार्रवाई

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।
  • CBSE बोर्ड के 10वीं के परिणाम 20 जुलाई को घोषित होने थे
  • 22 जुलाई तक 12वीं के मार्क्स मॉडरेशन के लिए पोर्टल एक्टिव

CBSE बोर्ड के 10वीं के परिणाम 20 जुलाई को घोषित होने थे, लेकिन स्कूलों की लापरवाही की वजह से रिजल्ट घोषित नहीं किया जा सका। अब आने वाले 1-2 दिन में परिणाम आने की संभावना है। दूसरी ओर 12वीं के रिजल्ट के लिए स्कूलों को 22 जुलाई तक मार्क्स मॉडरेशन का काम पूरा करना होगा। बोर्ड ने कहा है कि 22 जुलाई तक ही पोर्टल एक्टिव रहेगा। स्कूलों को हर हाल में इस समय तक मार्क्स मॉडरेशन का काम पूरा करना होगा, नहीं तो 10वीं की तरह ही 12वीं के परिणाम में भी देरी होगी और इसके जिम्मेवार स्कूल होंगे।

वहीं, अगर कोई भी स्कूल तय समय पर अपने रिजल्ट फाइनलाइज नहीं करेंगे तो उनके रिजल्ट बाद में अलग से निकाले जाएंगे। 31 के बाद ही इन स्कूलों के परिणाम आएंगे अन्य स्कूलों के परिणाम के लिए बोर्ड इंतजार नहीं करेगा। और तो और ऐसे स्कूलों पर कार्रवाई भी हो सकती है। बोर्ड ने स्कूलों को चेताया है। कंफ्युजन को दूर करने के लिए कल जारी होगा FAQ CBSE बोर्ड ने स्कूलों को सूचित किया है कि बुधवार को ईद की छुट्‌टी के बावजूद बोर्ड ऑफिस खुले होंगे। स्कूलों को परिणाम बनाने में आ रही दिक्कतों को दूर करने के लिए बोर्ड बुधवार की दोपहर 12 बजे तक FAQ यानि फ्रीक्वेंटली आस्कड क्वेश्चन आंसर के साथ जारी करेगा। बोर्ड ने यह भी कहा है कि कई स्कूल ई-मेल और व्हाट्सएप के जरिए कुछ सवाल और समस्याएं रख रहे हैं। इसलिए ये व्यवस्था है ताकि स्कूल के कंफ्यूजन को दूर कर सकें। इसके बाद सुधार का मौका नहीं

बोर्ड ने सर्कुलर में साफ किया है कि मॉडरेशन के बाद ध्यान से डाटा सबमिट करना होगा क्योंकि उसके बाद सुधार का मौका स्कूलों को नहीं मिलेगा। डाटा में किए गए बदलावों पर बोर्ड की नजर होगी और बोर्ड उसका रिकॉर्ड अपने पास रखेगा। अब अगर स्कूल बोर्ड की पॉलिसी का पालन नहीं करते हैं तो स्कूलों पर कार्रवाई करेगा।

10वीं के परिणाम एक से दो दिन में

10वीं के रिजल्ट में गड़बड़ी के बाद स्कूलों को बोर्ड ने जल्द से जल्द से रिजल्ट ठीक करने को कहा है। बता दें कि पटना जोन के करीब 200 स्कूलों ने बोर्ड के पॉलिसी के विरुद्ध विद्यार्थियों को एवरेज अंक से ज्यादा अंक दिए। सोमवार तक भी 56 स्कूलों ने रिजल्ट में सुधार नहीं किया था। 20 को रिजल्ट आना था पर गड़बड़ियों के कारणा विलंब हुआ। बोर्ड ने कहा- सही तरीके से 12वीं के रिजल्ट को मॉडरेट करें 10वीं के रिजल्ट बनाने के तरीके को देखने के बाद CBSE बोर्ड ने स्कूलों से कहा है कि वे फेयर तरीके से 12वीं के रिजल्ट को मॉडरेट करें। इसकी जिम्मेवारी स्कूल में बनी रिजल्ट कमिटी की होगी। रिजल्ट मॉडरेशन के समय स्कूलों को बोर्ड द्वारा प्राप्त रिफ्रेंस इयर का विशेष ध्यान रखना होगा। 10वीं की तरह विद्यार्थियों के मार्क्स ओवरऑल मार्क्स से ज्यादा हुए तो रिजल्ट फिर लौटा दिया जाएगा। बोर्ड के पोर्टल पर टैबुलेशन की पूरी शीट जिसमें 10वीं, 11वीं और 12वीं, प्रेक्टिकल और प्रोजेक्ट के मार्क्स दिखेंगे।

खबरें और भी हैं...