• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • College Affiliation, Portal Launched For Grants To Non financed Colleges, Recruitment Of Non teaching Staff In Universities Will Also Be Done Through Commission

शिक्षामंत्री की घोषणा:कॉलेज संबंधन, वित्त रहित कॉलेजों को अनुदान के लिए पोर्टल लॉन्च, विश्वविद्यालयों में शिक्षकेतर कर्मियों की भर्ती भी आयोग के माध्यम से होगी

पटना9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी - Dainik Bhaskar
शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी

राज्य के विश्वविद्यालयों में शिक्षकेतर कर्मियों की बहाली कर्मचारी चयन आयोग या अलग गठित आयोग के माध्यम से होगी। शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने मंगलवार को यह घोषणा की। विभागीय सभागार में शिक्षा मंत्री ने डिग्री कॉलेजों के संबंधन, वित्त रहित कॉलेजों को अनुदान और विश्वविद्यालयों में शिक्षकेतर कर्मियों की नियुक्ति की सूचना संग्रहण पोर्टल का लॉन्च किया।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि राज्य के परंपरागत विवि और कॉलेजों में शिक्षक और शिक्षकेतर कर्मियों के पद रिक्त हैं। अब शिक्षकेतर कर्मियों के स्वीकृत, कार्यरत और रिक्ति की सूचना पोर्टल पर हर माह के अंत में अपलोड होगी। विभिन्न स्तर पर कर्मी और पदाधिकारियों का उत्तरदायित्व का निर्धारण होगा। संबद्धता प्राप्त वित्त रहित कॉलेजों के शिक्षकों और शिक्षकेतर कर्मियों के अनुदान राशि उनके खाते में जाएगी। कॉलेज प्रबंधन को 70 प्रतिशत राशि शिक्षकों और कर्मियों के वेतन पर खर्च करना अनिवार्य होगा। ऑनलाइन सब कुछ होने से पारदर्शिता होगी।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि कई बार बिना संबद्धता मिले ही कॉलेज नामांकन ले लेता है, विश्वविद्यालय परीक्षा ले लेता है। बाद में सरकार के लिए यह सिरदर्द बन जाता है। काॅलेज, विश्वविद्यालय और उच्च शिक्षा निदेशालय सभी की जिम्मेदारी तय है। तीनों पोर्टल से उच्च शिक्षा विभाग की कार्यशैली, पारदर्शिता और जबावदेही लागू होगी। इससे मुख्यमंत्री की उच्च शिक्षा में सकल नामांकन अनुपात बढ़ाने की नीति को सफल बनाने में भी मदद मिलेगी। कॉलेज संबंधन सिंगल विंडो प्रोसेसिंग पोर्टल है।

कर्मियों के वेतन सत्यापन के लिए जल्द ही आएगा सॉफ्टवेयर
अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने कहा कि विवि सेवा आयोग के माध्यम से जल्द ही 4638 सहायक प्रोफेसर विवि को मिल जाएंगे। विवि के शिक्षक और शिक्षकेतर कर्मियों के वेतन सत्यापन के लिए जल्द सॉफ्टवेयर लॉन्च होगा। इससे वेतन संबंधी विवाद नहीं रहेंगे। सचिव असंगबा चुबा आओ ने कहा कि विभिन्न विश्वविद्यालयों में प्रयोगशाला सहायक और पुस्तकालयाध्यक्षों के 180 पद चिह्नित हो चुके हैं।

पोर्टल के माध्यम से अपडेट के बाद फाइनल रिक्ति का आकलन होगा। उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. रेखा कुमारी ने धन्यवाद दिया। मौके पर उच्च शिक्षा उप निदेशक अजीत कुमार, दीपक कुमार सिंह सहित सभी विवि के कुलसचिव मौजूद थे। कार्यक्रम में विवि के कुलपति भी ऑनलाइन जुड़े थे।

  • कॉलेज संबंधन के लिए पोर्टल www.cabihar.com
  • संबद्धता प्राप्त अनुदानित कॉलेजों के सहायक अनुदान की स्वीकृति पोर्टल education.bih.nic.in
खबरें और भी हैं...