पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Construction Of Blotting Incomplete In 27135 Chapakal, Slow Pace Of Water life greenery Campaign, Not A Single Work Completed In 33 Months

जल-जीवन-हरियाली अभियान:27135 चापाकल में सोख्ता का निर्माण अधूरा,जल-जीवन-हरियाली अभियान की रफ्तार सुस्त, 33 महीने में एक भी काम पूरा नहीं

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जल जीवन हरियाली अभियान की समीक्षा बैठक करते डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह - Dainik Bhaskar
जल जीवन हरियाली अभियान की समीक्षा बैठक करते डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह

जिले में जल-जीवन-हरियाली अभियान की रफ्तार बेहद सुस्त है। 33 महीने में एक भी योजना पूरी नहीं हुई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 28 अक्टूबर 2019 को इसकी शुरुआत की थी। एक साल के अंदर 28135 सार्वजनिक चापाकल के पास सोख्ता का निर्माण करना था। लेकिन, अबतक 1000 सार्वजनिक चापाकल के पास ही सोख्ता बनाया जा सका है।

मंगलवार को समीक्षा बैठक के दौरान नाराज डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने उप विकास आयुक्त रिची पांडेय को 3 महीने के अंदर 27135 सार्वजनिक चापाकल के पास सोख्ता बनाने का टास्क साैंपा। इसके साथ ही 3 महीने के अंदर 7026 कुआं का जीर्णेद्धार करने का निर्देश भी दिया। जिले में 7339 कुओं का जीर्णोद्धार कराना है। इनमें 263 कुओं का जीर्णोद्धार हुआ है।

उप विकास आयुक्त को सभी 23 प्रखंडाें में मनरेगा भवन के निर्माण संबंधित वर्तमान स्थित की विस्तृत रिपोर्ट उपलब्ध कराने व सभी जगह कार्य पूरा कराने का निर्देश दिया है। इस मौके पर डीडीसी रिचि पांडे, अपर समाहर्ता राजस्व राजीव कुमार श्रीवास्तव, डायरेक्टर डीआरडीए अरविंद कुमार आदि मौजूद थे

744 स्कूल और 26 स्वास्थ्य केंद्र में नहीं बना रेन वाटर हार्वेस्टिंग

जिले के 744 विद्यालय में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं बना है। समीक्षा बैठक के दौरान पाया गया कि 3000 वर्गफीट से अधिक छत वाले भवन में वर्षा जल संचयन (रेन वाटर हार्वेस्टिंग) का कार्य कराया जाना है। जिले के 873 विद्यालय भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग का लक्ष्य है। लेकिन, 161 भवन के लिए आवंटन मिला है। इसमें 129 भवन में रेन वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य पूरा किया गया है।

इस पर डीएम ने डीईओ को आवंटन मिलने वाले 32 भवनों में एक माह के अंदर रेन वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य पूरा करने का निर्देश दिया। सिविल सर्जन को 26 स्वास्थ्य केंद्रों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग के लिए विभाग से आवंटन प्राप्त करने का निर्देश दिया है। अबतक 5 स्वास्थ्य केंद्र में रेन वाटर हार्वेस्टिंग बनाया गया है। जिले में मनरेगा के तहत 4.04 लाख पौधरोपण करने का लक्ष्य था। लेकिन, अबतक 2.02 लाख पौधारोपण ही किया गया है। यह लक्ष्य का 50 फीसदी है। डीएम ने 9 अगस्त के पहले इसे पूरा कराने का टास्क दिया।

खबरें और भी हैं...