पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना को लेकर सतर्कता जरूरी:शादियों पर कोरोना का ब्रेक, कैंसिल होने लगी मैरेज हॉल की बुकिंग

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • जाे तैयारी कर रहे वे भी सशंकित, कम मेहमानाें के बीच सादगी से हाेगा शादी समाराेह

कोरोना के कारण फिर शादी-विवाह टलने लगे हैं। 14 अप्रैल से लगन शुरू हो चुका है। जिन परिवारों में लोग कोरोना पीड़ित हैं, वहां शादियां कैसिंल कर दी गई हैं। लोग मैरिज हॉल की बुकिंग कैंसिल करा रहे हैं। मौजूदा गाइडलाइन के अनुसार किसी भी मैरिज हॉल में अधिकतम दो सौ लोग ही किसी शादी समारोह में शामिल हो सकते हैं। साथ ही कोरोना से जुड़े अन्य सुरक्षा नियमों का पालन करने की बाध्यता है।

बाहर से आने वाले मेहमान नहीं आ पा रहे

कदमकुआं के रूपचंद भगत उत्सव हॉल के मालिक सुधीर कुमार ने बताया कि इस सीजन में अभी तक 22 शादियों की उनके यहां बुकिंग हुई है। इनमें से 22 व 25 अप्रैल और 3 मई की बुकिंग कैंसिल कराई गई है। दानापुर के गोला रोड स्थित टी प्वाइंट रिसोर्ट के ऑनर अजीत कुमार ने बताया कि 14 मई की एक बुकिंग कैंसिल हुई है। बुकिंग कराने वालों ने बताया कि बाहर से ज्यादा मेहमान आने वाले थे, जो अब नहीं आ पाएंगे। आशियाना नगर के रामनगरी सेक्टर थ्री स्थित सुंदर वाटिका मैरेज हॉल के मैनेजर ने बताया कि जून तक के अधिकांश डेट बुक हैं, जिनमें चार-पांच शादियां कैंसिल हो चुकी हैं, क्योंकि उनके परिवार के कुछ सदस्य कोरोना से पीड़ित हैं। राजीव नगर थाना के पास स्थित एक होटल में 22 अप्रैल को होने वाली शादी के लिए बुकिंग कैंसिल करा दी गई है।

शादी टालने पर यजमान ले रहे पंडित जी से सलाह

ज्योतिषाचार्य पंडित अभय मिश्रा ने बताया कि 14 अप्रैल से लगन शुरू हो गया है। लेकिन, 22 अप्रैल से बढ़िया लगन है। 25 व 26 अप्रैल और 8, 22, 25 व 26 मई को उन्हें जाे शादियां करानी थीं, वे कैंसिल हो गई हैं। गोला रोड शिवमंदिर के पुजारी पंडित संतोष पांडे ने बताया कि यजमान लोग लगातार मोबाइल पर शादियां टालने को लेकर सलाह ले रहे हैं और आगे के लगन की जानकारी ले रहे हैं। ज्योतिर्वेद विज्ञान केंद्र के निदेशक डॉ. राजनाथ झा के अनुसार 16 अप्रैल काे मधुबनी में एक शादी करानी थी, जो टल गई है।

हर मैरिज हॉल को हाेगा 10 से 15 लाख रुपए तक का नुकसान

जिले में करीब 400 मैरिज हॉल हैं। हर मैरिज हॉल संचालक को इस सीजन में कम से कम 10 से 15 लाख का नुकसान उठाना पड़ सकता है। शादियों की बुकिंग के बाद फूलों की सजावट के लिए कोलकाता के कारीगरों, दूसरे अन्य कार्यों के लिए भी बाहर के कारीगरों को एडवांस दिया जाता है। अभी तो कम ही शादियां कैंसिल हुई हैं। बुकिंग कैसिंलेशन बढ़ा तो मैरिज हॉल के साथ टेंट डेकोरेटर से लेकर शादी-विवाह समारोहों की शोभा बढ़ाने वाले तमाम लोगों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ सकता है।

-पंकज कुमार उर्फ पिंटू सिंह, अध्यक्ष, ऑल बिहार टेंट-डेकोरेटर वेलफेयर एसोसिएशन

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें