पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पटना विश्वविद्यालय:कोरोना से सिर्फ प्रवेश परीक्षा पर असर, आवेदन प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं

पटना14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नए सत्र की नामांकन प्रक्रिया को बदलने की चल रही तैयारी

पटना विश्वविद्यालय में नए सत्र की नामांकन प्रक्रिया को बदलने की तैयारी चल रही है। 31 मई को पटना विवि प्रशासन ने इसी मुद्दे पर निर्णय के लिए एकेडमिक काउंसिल की मीटिंग भी बुलाई है। इसके बाद राजभवन में नामांकन के मुद्दे पर अंतिम फैसला होगा। हालांकि नामांकन प्रक्रिया में बदलाव के प्रस्ताव के बीच आवेदन की प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं होगी। पटना विवि में नामांकन के लिए आवेदन प्रक्रिया पूरी तरह ऑनलाइन मोड में शिफ्ट हो चुकी है और अगले सत्र के लिए भी यही प्रक्रिया होगी।

कॉलेजों के चयन के लिए सेंट्रलाइज्ड आवेदन
प्रवेश परीक्षा नहीं हुई तो पटना विवि में इंटर के प्राप्तांक के आधार पर नामांकन होगा। पटना विवि के विभिन्न कॉलेजों में नामांकन के लिए सेंट्रलाइज्ड आवेदन ही होगा। एक ही आवेदन में अभ्यर्थियों को विकल्प देना होगा और उसके बाद मेधा सूची के आधार पर नामांकन होगा। मेधा सूची केंद्रीयकृत तरीके से जारी होगी और उसके बाद नामांकन होगा।

विज्ञान व कला के लिए तीन तीन विकल्प छात्राओं के पास

पटना विवि में पटना वीमेंस कॉलेज की नामांकन प्रक्रिया अलग है। अन्य कॉलेजों को मिलाकर विज्ञान व कला संकाय में नामांकन के लिए छात्राओं के पास तीन-तीन विकल्प होंगे। इसमें विज्ञान के लिए मगध महिला कॉलेज, पटना साइंस कॉलेज और बीएन कॉलेज हैं जबकि कला के लिए भी तीन विकल्प होंगे, जिसमें मगध महिला कॉलेज, बीएन कॉलेज और पटना कॉलेज शामिल है। कॉमर्स के लिए दो ही विकल्प होंगे जिसमें मगध महिला कॉलेज सिर्फ छात्राओं के लिए है और वाणिज्य महाविद्यालय सभी के लिए। बीएन कॉलेज में बीकॉम की पढ़ाई का प्रस्ताव तो है लेकिन अगले सत्र में यह लागू नहीं हो सकेगा।

खबरें और भी हैं...