45 दिन बाद भी नहीं मिली लाडली:आरा के लड़के के खिलाफ क्लू देने के बाद भी गोपालपुर पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

पटना10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरा का लड़का राजा अली। इस पर लड़की को अपहरण करने का आरोप लगा है। - Dainik Bhaskar
आरा का लड़का राजा अली। इस पर लड़की को अपहरण करने का आरोप लगा है।

पटना के बैरिया इलाके की रहने वाली 26 साल की त्रिया सिंह पिछले 45 दिनों से लापता है। वो ट्रेसलेस है। उसके पास न तो कोई मोबाइल है न ही कॉन्टैक्ट करने का कोई दूसरा साधन। पिता विनोद सिंह और परिवार के दूसरे सदस्य लगातार अपनी लाडली की खोजने में जुटे हैं। पर अब तक कोई सफलता नहीं मिली। परिवार का आरोप है कि आरा के टाउन थाना के तहत वलवतरा के रहने वाले युवक राजा अली ने त्रिया को गायब किया है। उसने उसकी किडनैपिंग की है। राजा और उसके परिवार को पता है कि उनकी बेटी कहां है? फिर भी पटना पुलिस इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

बाजार गई थी, पर लौटी नहीं
परिवार के अनुसार बात 24 नवंबर की है। उस दिन शाम के 4 बजे के करीब बाजार जाने के नाम त्रिया अपने घर से निकली थी। इसके बाद वो वापस नहीं आई। उसका मोबाइल भी घर पर ही मिला। लगातार तीन दिनों तक परिवार ने उसे हर जगह तलाशा। फिर 28 नवंबर को गोपालपुर थाना में पिता ने लिखित शिकायत की। परिवार के लोग यहीं पर नहीं रुके। अपने स्तर से खोजबीन जारी रखी। तब जाकर पता चला कि आरा के रहने वाले राजा अली के बारे में।

आरा में हो चुकी है छापेमारी
रिश्तेदार के अनुसार एक एग्जाम के दौरान त्रिया का परिचय अफसर अली की बड़ी बहन से हुआ था। दोनों के बीच दोस्ती हो गई थी। आशंका है कि बड़ी बहन के जरिए राजा त्रिया के कॉन्टैक्ट में आया। इसके बाद बहाने से बुलाकर उसे गायब कर दिया। राजा भी अपने घर पर नहीं है। 24 दिसंबर को ही आरा टाउन थाना की मदद से उसके घर पर छापेमारी हुई थी। पर वो नहीं मिला, वहां से फरार था। आरोप है कि उसके परिवार को राजा और त्रिया के बारे में पता है। बावजूद इसके वो बता नहीं रहे हैं। राजा की बड़ी बहन सीवान में रहती है। उसे भी इस बारे में पता है। पर कोई कुछ बता नहीं रहा है।

पुलिस पर लापरवाही का आरोप
इस मामले में लड़की के परिवार का आरोप है कि गोपालपुर थाना की पुलिस और केस के इंवेस्टिगेशन ऑफिसर ASI रामजतन सिंह लापरवाही बरत रहे हैं। उनकी जांच और पड़ताल काफी सुस्त है। 31 दिसंबर को अचानक राजा का मोबाइल नंबर ऑन मिला। जो फिर बंद हो गया। इसकी जानकारी पुलिस को दी। उनसे उसके नंबर का कॉल डिटेल और टॉवर लोकेशन पता करने की अपील भी की। मगर, इस अपील का रिजल्ट नहीं मिला। पटना सदर के ASP संदीप से गोपालपुर थाना के FIR नंबर 432/2021 के बारे में बात की गई। वो इस केस के IO से बात कर त्रिया की बरामदगी को लेकर कार्रवाई में तेजी लाने का निर्देश देंगे।